Saturday, April 20, 2024
Home हिमाचल प्रदेशशिमला HIMACHAL: कुल्लू को मिली करोड़ों की 13 परियोजनाओं की सौगात, CM ने किया उद्घाटन एवं शिलान्यास

HIMACHAL: कुल्लू को मिली करोड़ों की 13 परियोजनाओं की सौगात, CM ने किया उद्घाटन एवं शिलान्यास

by News 360 Broadcast

न्यूज़360ब्रॉडकास्ट(हिमाचल/शिमला)

शिमला: मुख्यमंत्री ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू द्वारा जिला कुल्लू को 198 करोड़ रुपए की 13 विकास परियोजनाओं की सौगात दी गई है। इन योजनाओं का सीएम सुक्खू ने शिलान्यास एवं उद्घाटन किया। इस अवसर पर उन्होंने लोगों को नव वर्ष की हार्दिक शुभकामनाएं दीं और कहा कि इन परियोजनाओं से स्थानीय निवासी और पर्यटक दोनों ही लाभान्वित होंगे।

सीएम ने इस मौके पर 20 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित सब्जी मंडी बंदरोल तथा 9.07 करोड़ रुपए से रायसन में ब्यास नदी पर बने डबल लेन पुल का लोकार्पण किया। उन्होंने नेहरू कुंड (बाहांग) में ब्यास नदी पर बुरवा और शनाग सम्पर्क मार्ग को जोड़ने वाले 6.44 करोड़ रुपये से बने स्टील ट्रस ब्रिज, जगतसुख नाला पर 4.07 करोड़ रुपए और चक्की नाला पर 3.37 करोड़ रुपए से बने आरसीसीटी-बीम पुलों, पतलीकूहल में 20 लाख रुपए से बने विवेकानन्द पुस्तकालय, मनाली में 7.83 करोड़ रुपए से बनी इको-फ्रेंडली मार्केट मढ़ी, सोलंगनाला में 54 लाख रुपए से तैयार वे साइड सुविधाएं और सजला में 29 लाख रुपए की लागत से निर्मित आयुर्वेदिक स्वास्थ्य केन्द्र भवन का उद्घाटन किया।

वहीं उन्होंने 130.18 करोड़ की लागत से भबेली जिंदौर सड़क के रखरखाव और टारिंग 3.59 करोड़ रुपए की बंदरोल दीदारी शरण सड़क, 1.49 करोड़ रुपए की फ्लेन से ग्राहन सड़क और 10.86 करोड़ रुपए से ब्यास नदी के दाहिने किनारे पर ग्राम कटराईं, 15 मील बड़ाग्रां बिहाल और आसपास के क्षेत्रों के लिए बाढ़ सुरक्षा कार्यों की आधारशिलाएं भी रखीं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार आपदा प्रभावितों की सहायता के लिए पूरी तरह समर्पित है। यह प्रतिबद्धता सरकार की ओर से आपदा प्रभावितों की सहायता के लिए लाए गए 4 हजार 500 करोड़ रुपए के विशेष राहत पैकेज से स्पष्ट झलकती है। इस राहत पैकेज के तहत पूरी तरह से क्षतिग्रस्त मकानों के लिए मुआवजा 1.30 लाख रुपए से साढ़े पांच गुना बढ़ाकर 7 लाख रुपए किया गया है और कच्चे मकानों को आंशिक क्षति के मामले में मुआवजा 25 गुना बढ़ाकर 1 लाख रुपये किया गया है। इसी प्रकार पक्के मकानों के लिए मुआवजा 15.5 गुणा बढ़ाया गया है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि आपदा के दौरान वह तीन दिन तक स्वयं कुल्लू में रहे हैं। 48 घंटे के भीतर आवश्यक सेवाएं अस्थाई रूप से बहाल की कर दी गईं थी। उन्होंने कहा कि पर्यटन क्षेत्र पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ने के बावजूद मुख्य पर्यटक स्थलों जैसे शिमला, मनाली और धर्मशाला में प्रदेश सरकार के सकारात्मक प्रयासों से पर्यटकों की संख्या में बढ़ौतरी दर्ज की गई है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार पर्यटकों को हर प्रकार की सुविधा प्रदान कर रही है। उन्होंने कहा कि नव वर्ष के अवसर पर प्रदेश सरकार ने राज्य के युवाओं के लिए सौर ऊर्जा क्षेत्र में राजीव गांधी स्वरोज़गार स्टार्ट-अप योजना के चरण-2 को शुरू करने का भी निर्णय लिया है।

इस अवसर पर लोक निर्माण मंत्री विक्रमादित्य सिंह, विधायक भुवनेश्वर गौड़, पूर्व मंत्री खीमी राम, पूर्व विधायक रघुबीर सिंह, जिला कांग्रेस अध्यक्ष सेसराम आजाद, एपीएमसी कुल्लू के अध्यक्ष राम सिंह मियां, एपीएमसी मण्डी के अध्यक्ष संजीव गुलेरिया, उपायुक्त आशुतोष गर्ग, पुलिस अधीक्षक साक्षी वर्मा और अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

You may also like

Leave a Comment