Tuesday, April 16, 2024
Home जालंधर हद हो गई! FRIENDS कॉलोनी में गैर-कानूनी तरीके से इमारत के निर्माण को रोकने में नाकाम नगर निगम

हद हो गई! FRIENDS कॉलोनी में गैर-कानूनी तरीके से इमारत के निर्माण को रोकने में नाकाम नगर निगम

by News 360 Broadcast

बार-बार शिकायतें देने के बावजूद निगम अधिकारी कार्रवाई करने से काट रहे हैं कन्नी: शिकायतकर्ता

शिकायकर्ता का आरोप: इमारत के निर्माणकार्य में बॉय लॉज को रखा गया है ताक पर

न्यूज़ 360 ब्रॉडकास्ट (जालंधर)

शहर के डीएवी कॉलेज के सामने के पॉश एरिया फ्रेंड्स कॉलोनी में गैरकानूनी तरीके से इमारत का निर्माण कराने का एक मामला सामने आया है। कालोनी निवासियों ने कई बार इस बारे में नगर निगम के उच्चाधिकारियों के पास शिकायत दर्ज कराई, लेकिन निगम इस मामले में कोई भी कार्रवाई करने और गैरकानूनी निर्माण को रोकने में पूरी तरह से नाकाम रहा है। ऐसे में कालोनी निवासियों को मजबूरीवश मुख्यमंत्री पंजाब और लोकल बॉडी मिनिस्टर को शिकायत भेजनी पड़ी है।

इस मामले को लेकर आज शिकायतकर्ता कालोनी वासी पंजाब प्रेस क्लब में मीडिया के सामने रूबरू हुए। इस दौरान शिकायतकर्ता सतीश कुमार गुप्ता ने नगर निगम की पंगू कार्यप्रणाली पर भी सवालिया सवाल उठाए हैं। उन्होंने कहा कि इस बात से भी इंकार नहीं किया जा सकता कि मामले में नगर निगम के अधिकारी और गैरकानूनी तरीके से इमारत का निर्माण करने वाले व्यक्ति के बीच कहीं कोई मिलिभगत तो नहीं है? नगर निगम कमिशनर को इस मामले का बिना किसी देरी के संज्ञान लेते हुए जांच करवाकर उचित कार्रवाई करनी चाहिए। पत्रकारों से बातचीत में उन्होंने बताया कि उनकी कालोनी में शशि शर्मा (हाऊस नं-44, लेन नं-3) गैरकानूनी तरीके (बिना नक्शा पास कराए) इमारत का निर्माण कर रहा है।

इस बारे में कालोनी के लोगों ने उसे कई बार रोका। बावजूद इसके उसने इमारत का निर्माणकार्य जारी रखा। इमारत के निर्माण में बिल्डिंग बॉय-लॉज का भी पूरी तरह से उल्लंघन किया गया है। उन्हें इस बात का शक है कि वह रिहायशी एरिया में कमर्शियल निर्माण करके पीजी बनाने जा रहा है। इमारत के गैरकानूनी निर्माण पर कालोनी के आस पड़ोस के लोग एतराज जता रहे हैं। जिसके चलते आज उन्होंने प्रेस कॉन्फ्रेंस की।

वहीं पत्रकारों से बातचीत के दौरान शिकायतकर्ता सतीश कुमार गुप्ता और आसपड़ोस के लोगों ने नगर निगम के उच्चाधिकारियों से गैरकानूनी तरीके से इमारत के निर्माणकार्य को तुरंत रुकवाने और बॉय-लॉज का उल्लंघन सही साबित होने पर इमारत के मालिक के खिलाफ बनती कार्रवाई करने की मांग की है।

You may also like

Leave a Comment