Monday, April 15, 2024
Home एजुकेशन KMV का बोटैनिकल गार्डन छात्राओं को दे रहा है वैज्ञानिक तथा व्यवहारिक शिक्षा

KMV का बोटैनिकल गार्डन छात्राओं को दे रहा है वैज्ञानिक तथा व्यवहारिक शिक्षा

by News 360 Broadcast

न्यूज़ 360 ब्रॉडकास्ट (जालंधर/एजुकेशन)

जालंधर: शहर का कन्या महाविद्यालय सदा छात्राओं को पुस्तकीय ज्ञान के साथ-साथ व्यावहारिक जानकारी प्रदान करवाने के लिए प्रयत्नशील है। इस ही सोच के अंतर्गत केएमवी में स्थापित किए गए बोटैनिकल गार्डन का मकसद छात्राओं को वैज्ञानिक तथा व्यावहारिक शिक्षा प्रदान करना है। विभिन्न जड़ी-बूटियों चिकित्सक तथा सजावटी शानदार पौधों के साथ सभी ऋतुओं में जीवंत यह गार्डन विद्यालय की खूबसूरती को बढ़ाने के साथ-साथ छात्राओं कोमल के पौधे के समेत विभिन्न फूलों एवं फलों की प्रजातियों के संरक्षण एवं महत्व के बारे में प्रैक्टिकल जानकारी प्रदान कर रहा है। प्रत्येक पौधे को लेबल कर उसके रिकॉर्ड को पौधों से संबंधित अध्ययन में उपयोग किया जाता है।

विद्यालय प्रिंसीपल प्रो. अतिमा शर्मा द्विवेदी ने बताया कि कन्या महा विद्यालय सदा छात्राओं के सर्वपक्षीय विकास को केन्द्र में रखता है और यह प्रयत्न इस दिशा में एक विकासशील कदम है। आगे बात करते हुए उन्होंने कहा कि बोटैनिकल गार्डन छात्राओं के लिए किसी भी पौधे के विकास पड़ावों उनके आकार तथा व्यवहार को जानने में कारगर माध्यम है जहां खुले माहौल में छात्राएं विषय की व्यवहारिक जानकारी हासिल कर रही है। सूबेदार मेजर गुरचरण सिंह, सूबेदार मेजर जसवीर सिंह, सूबेदार मेजर परमजीत सिंह, नेब रिसलदार शेताना सिंह, नेब/सूबेदार दविंदर पाल सिंह, नेब/सूबेदार एम के पोहनकर, हवलदार रतन सिंह, हवलदार गुरदीप सिंह, हवलदार सतनाम सिंह, हवलदार तरसेम सिंह, हवलदार बाबू राम शर्मा, हवलदार आर एस परिहार, हवलदार पी के खुशवाहा, हवलदार योगेन्द्र कुमार, हवलदार गुरदीप सिंह, हवलदार अमन सिंह, सूबेदार परमजीत सिंह, नेक विशाल सिंह, नेक चन्द्रिका यादव उपस्थित रहीं।

प्राचार्या प्रो. डॉ. (श्रीमती) अजय सरीन ने कहा कि वास्तव में यह दस दिवसीय कैंप कैडेट्स के लिए अद्वितीय शिक्षण अनुभव रहा जो निश्चय ही
उनके आगामी जीवन को अनुशासित, ज्ञानवर्धक व उज्जवल बनाने में सहायक रहेगा। लेफिटनेंट सोनिया महेन्द्रूने बताया कि एचएमवी कैडेट्स ने गार्ड ऑफ ऑनर में दो स्वर्ण पदक, ड्रिल में तीन रजत पदक तथा ग्रुप डांस में दो रजत पदक प्राप्त कर अपनी विलक्षण प्रतिभा का परिचय दिया। कैडेट्स आंचल को सीनियर कंपनी तथा बैस्ट टर्नआऊट के लिए दो स्वर्ण पदक प्रदान कर सममानित किया गया। कैंप के समापन में सभी कैडेट्स को बायोमैट्रिक अटैंडेंस द्वारा डिसपर्सड किया गया।

You may also like

Leave a Comment