Tuesday, April 16, 2024
Home जालंधर जालंधर की बेटी सोनाली बनी जज, प्रेरित होकर बड़े भाई बहनों ने भी शुरू की वकालत

जालंधर की बेटी सोनाली बनी जज, प्रेरित होकर बड़े भाई बहनों ने भी शुरू की वकालत

by News 360 Broadcast

न्यूज़ 360 ब्रॉडकास्ट (जालंधर/पंजाब)

जालंधर: महानगर के कस्बे आदमपुर के साथ लगते गांव जंडूसिंघा के एक साधारण परिवार की बेटी सोनाली कौल ने जज बनकर अपने परिवार के साथ-साथ गांव और पूरे जिले का नाम रोशन किया है। सोनाली अपने 6 भाई बहनों में सबसे छोटी है। लेकिन उससे प्रेरित होकर उसके पांचों भाई-बहन आज वकालत की पढ़ाई कर रहे हैं। सोनाली के जज बनने से उसके परिवार के सभी लोग बेहद खुश हैं। उनके घर बधाई देने वाले आस पड़ोस के लोगों और रिश्तेदारों का तांता लगा हुआ है। सोनाली ने बताया कि पहले वकालत और फिर जज बनने के लिए उसने दिन रात देखे बिना पढ़ाई की हैं, जिसका प्रमाण मिला कि वह अब जज बन गई है।

अपनी बेटी की इस उपलब्धि से खुश हुए पिता का कहना है कि वह खुशकिस्मत हैं कि उनके घर सोनाली जैसी बेटी पैदा हुई। भगवान उसे खुश रखे। सोनाली का कहना हैं कि उनका परिवार आर्थिक तोर पर भले ही कमजोर हैं लेकिन फिर भी उसने ज्यूडिशियरी की पढाई पूरी की। जज बनी सोनाली ने कहा कि यह उसके दादा का सपना था। वे कहते थे कि बेटियां पढ़ लिखकर अपने पैरों खड़ी हों, आत्मनिर्भर बनें, तभी आगे वाले परिवार उनको इज्जत देंगे।

वहीं सोनाली से प्रेरित होकर वकील बनी उसकी बड़ी बहन का कहना है कि मैं पहले स्पोर्ट्स कोटे में 12वीं करके हट गई थी । लेकिन बाद में मैंने सोनाली से प्रेरित होकर अपने पिता को कहा कि आप मुझे भी वकालत की पढ़ाई शुरू करवाएं और पिता जी भी तुरंत इस बात के लिए मान गए। अब उनके ओर भाई बहनों ने भी वकालत शुरू कर दी है। यही नहीं गांव में उनका घर वकीलों के घर के नाम से जाना जाता है। वहीं सोनाली की इस उपलब्धि से उसके रिश्तेदार भी बहुत खुश हैं कि उनकी बेटी जज बन गई हैं।

You may also like

Leave a Comment