Saturday, April 20, 2024
Home एजुकेशन APJ कॉलेज ने नारी शक्ति को नमन करते हुए मनाया अंतर्राष्ट्रीय महिला-दिवस

APJ कॉलेज ने नारी शक्ति को नमन करते हुए मनाया अंतर्राष्ट्रीय महिला-दिवस

by News 360 Broadcast

न्यूज़ 360 ब्रॉडकास्ट (जालंधर/एजुकेशन)

जालंधर: शहर के एपीजे कॉलेज ऑफ़ फाइन आर्ट्स में नारी शक्ति को वंदन करते हुए अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस मनाया गया। एपीजे कॉलेज आफ फाइन आर्ट्स नारी सशक्तिकरण का प्रत्यक्ष प्रमाण है। इस संस्था का मूल आधार एपीजे एजुकेशन की अध्यक्ष, एपीजे सत्या एंड स्वर्ण ग्रुप की को फाउंडर एंड एवं अध्यक्ष तथा एपीजे सत्या यूनिवर्सिटी की को-फाउंडर एवं चांसलर डॉ सुषमा पाल बर्लिया का जीवन आधुनिक प्रवेश में नारी जीवन के लिए एक बहुत बड़ा प्रेरणास्रोत है।

एपीजे एजुकेशन के संस्थापक अध्यक्ष स्वर्गीय डॉ सत्यपाॅल नारी को जिस उच्च मुकाम पर देखना चाहते थे डॉ सुषमा पाल बर्लिया ने उसे उससे भी आगे बढ़ते हुए अपनी नेतृत्व शक्ति एवं रचनात्मक सोच से विभिन्न पुरस्कारों पर अपना वर्चस्व स्थापित करते हुए नए आयामों की रचना की। अब उन्हीं के पदचिन्हों पर चलते हुए एपीजे सत्या यूनिवर्सिटी की को-फाउंडर एवं प्रो चांसलर डॉ नेहा बर्लिया भी सशक्त महिला के रूप में स्थापित होकर एपीजे संस्थाओं में नई उर्जा का संचार कर रही हैं।

महिला दिवस समारोह की शुरुआत- लीडर ऑफ द जर्नी नामक डॉक्यूमेंट्री से हुई जिसमें डॉ. सुषमा पॉल बर्लिया की जीवन यात्रा को उनकी कई भूमिकाओं में दर्शाया गया है जिन्हें वह सफलतापूर्वक निभाती हैं। एपीजे एजुकेशन जालंधर की निदेशक डॉ सुचरिता का उत्साहपूर्वक स्वागत किया गया। उन्होंने अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस मनाने की सार्थकता पर अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि हमारा उद्देश्य नारी सशक्तिकरण को लेकर विद्यार्थियों में जागरूकता का संचार करना है कि जहां पर भी वह किसी ऐसी महिला को देखें जिसे जीवन में स्थापित होने के लिए मदद की जरूरत है तो उसकी तरफ सहायता का हाथ जरूर बढ़ाएं।

इस अवसर पर उन्होंने जयपुर घराने की कत्थक नृत्यांगना संगीत नाटक अकादमी सम्मान से सम्मानित गुरु गीतांजलि की शिष्या, 2011 में गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड 1 मिनट में 103 चक्कर लेने वाली तथा वर्ष 2018 के लिए संगीत नाटक अकादमी द्वारा उस्ताद बिस्मिल्लाह खान पुरस्कार की प्राप्तकर्ता विधा लाल का अभिनंदन करते हुए कहा कि आपको प्रत्यक्ष नृत्य करते हुए देखना वास्तव में हमारे कॉलेज के
विद्यार्थियों एवं टीचर्स का परम सौभाग्य है।

इस अवसर पर डांस विभाग के विद्यार्थियों द्वारा जीवन में विभिन्न भूमिकाओं मां, बहन, बेटी, पत्नी, प्रोफेशनल का सफलता से निर्वहण
करती हुई नारी माथे पर शिकन भी नहीं आने देती विषय पर नृत्य की मंत्रमुग्ध कर देने वाली प्रस्तुति दी गई। अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर कॉलेज की 6 पूर्व छात्राओं पंजाब यूनिवर्सिटी के स्वामी सर्वानंद गिरि रीजनल सेंटर होशियारपुर की असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ नीरू मागो, HCL टेक्नोलॉजी में कार्यरत डिप्टी फाइनेंस मैनेजर सहर आहूजा, मल्टीमीडिया डिजाइनर एवं आर्टिस्न इरा रितिका गोयल, उभरती सूफी गायिका डा ममता जोशी, VIP मोशन पिक्चर्स की क्रिएटिव डायरेक्टर टीनू शर्मा एवं एम्बिएंस बाए अपर्णा की इंटीरियर डिजाइनर अपर्णा को सम्मानित किया गया।

इस अवसर पर डॉ ढींगरा ने कहा कि हमारी ऊर्जा शक्ति एवं मार्गदर्शक डॉ सुषमा पाल बर्लिया एवं एपीजे सत्या यूनिवर्सिटी की को फाउंडर एवं प्रो चांसलर डॉ नेहा बर्लिया हमें हमेशा प्रेरित करती हैं कि हम अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर प्रतिष्ठित कलाकारों को कॉलेज में आमंत्रित करते रहे जिससे हमारे विद्यार्थी प्रभावित हों और वे भी अपने क्षेत्र विशेष में अथक परिश्रम करते हुए उन्नति की राह पर आगे बढ़ सके। एपीजे एजुकेशन जालंधर की निदेशक डॉ सुचरिता एवं प्राचार्य डॉ नीरजा ढींगरा ने श्रीमती विधा लाल को स्मृति चिन्ह भेंट कर सम्मानित किया। कार्यक्रम की अपार सफलता के लिए डॉ ढींगरा ने कार्यक्रम प्रभारी डॉ अमिता मिश्रा एवं डॉ मनीषा शर्मा के प्रयासों की भरपूर सराहना की।

You may also like

Leave a Comment