Monday, April 15, 2024
Home एजुकेशन HMV कॉलेजिएट स्कूल में अचीवर्स-डे का हुआ आयोजन

HMV कॉलेजिएट स्कूल में अचीवर्स-डे का हुआ आयोजन

by News 360 Broadcast

न्यूज़ 360 ब्रॉडकास्ट (जालंधर/एजुकेशन)

जालंधर: एचएमवी कॉलेजिएट सीनियर सेकेंडरी स्कूल के छात्रों की शैक्षणिक एवं अशैक्षणिक क्षेत्र में अभूतपूर्व उपलब्धियों का जश्न मनाने हेतु सम्मानित समारोह अचीवर्स-डे-2024 का आयोजन हुआ। प्राचार्य प्रो. डॉ.(श्रीमती) अजय सरीन के प्रभावशाली मार्गदर्शन अधीन उत्साहपूर्वक मनाया गया। सर्वप्रथम सर्वमंगल कामना हेतु ज्ञान की ज्योति प्रज्ज्वलित की गई। तत्पश्चात सभागृह में उपस्थित सर्वजनों ने डीएवी गायन में प्रतिभागिता की गई।

इस अवसर पर मुयातिथि स्वरूप उपस्थित श्रीमती गुरिंदरजीत कौर, प्राचार्या गर्वमेंट गल्र्स सीनियर सेकेंडरी स्कूल, नेहरू गार्डन, जालंधर एवं श्री सुनील शर्मा, प्राचार्य शिशु माडल स्कूल भूलत्थ, श्रीमती राजिंदर कौर, वाइस प्रिंसिपल गर्वमेंट सीनियर सेकेंडरी स्कूल जालंधर का स्वागत प्राचार्य प्रो. डॉ. (श्रीमती) अजय सरीन, डॉ. सीमा मरवाहा, डीन अकादमिक एवं स्कूल कोआर्डिनेटर की ओर से ग्रीन प्लांटर भेंट कर अभिनन्दन गया।

प्राचार्या डॉ. सरीन ने उपस्थित प्रतिष्ठित अतिथियों, स्कूल कोआर्डिनेटर, अध्यापकों एवं छात्राओं का स्वागत किया एवं एचीवर्ज डे का हिस्सा बनने पर गर्व अनुभव करते हुए कहा कि जो शैक्षणिक व अशैक्षणिक उपलब्धियां आपने प्राप्त की हैं, उन सबके पीछे आपके गुरुजनों एवं माता-पिता का योग्यात्मक सहयोग है, जिसे हम अचीवर्स डे के रूप में मना रहे हैं। उन्होंने छात्राओं को अपने लक्ष्य पर केंद्रित रहते हुए निरंतर अग्रसर होते हुए अपने लक्ष्यों की प्राप्ति के लिए ऊंची उड़ान भरने के लिए प्रेरित किया एवं कहा कि सर्वश्रेष्ठ आना अभी बाकि है क्योंकि वैश्विक स्तर पर स्वयं पर कार्य करना एक सतत्प्र क्रिया है।

अंत में उन्होंने छात्राओं को नैतिक मूल्यों, संस्कारों को अपने व्यक्तित्व में एक विशेष स्थान देने के लिए प्रेरित किया ताकि वे एक अच्छे नागरिक बनते हुए राष्ट्र एवं संस्था का नाम रोशन करें। मुख्यातिथि श्रीमती गुरिंदरजीत कौर ने पिछले 23 वर्षों से खेलों में ओवरऑल ट्राफी जीतकर समृद्ध विरासत को बनाए रखने के लिए एचएमवी को बधाई देते हुए अपने संबोधन में उन्होंने छात्रों को जीवन के प्रति सही दृष्टिकोण अपनाने, पर्यावरण और समाज के प्रति जागरूक रहने की सलाह दी और इस बात पर जोर दिया कि प्रतिस्पर्धा को सही भावना से
लिया जाना चाहिए और हर दिन को जीवन का एक उपलब्धि दिवस बनाना चाहिए।

उन्होंने विजेताओं को यह कहते हुए बधाई दी कि नैतिक मूल्य और संस्कार व्यक्तित्व का सबसे अच्छा आभूषण है जिनसे अपने-
आप को शृंगारित करें और भविष्य में उनकी सफलता की कामना की। डॉ. सीमा मरवाहा ने गणमान्य अतिथियों और प्राचार्य प्रो. डॉ.
(श्रीमती) अजय सरीन का अभिनंदन करते हुए स्कूल द्वारा शैक्षणिक अशैक्षणिक, सांस्कृतिक एवं खेलकूद में प्राप्त अभूतपूर्व उपलब्धियों की
वार्षिक रिपोर्ट प्रस्तुत की एवं उन्होंने परमपिता परमात्मा, डीएवी संस्था के महान सुधी विद्वानों के प्रति कृतज्ञता व्यक्त की। प्राचार्य प्रो.
डॉ. (श्रीमती) अजय सरीन के सहयोग की प्रशंसा करते हुए उनके प्रति तहे दिल से आभार व्यक्त किया।

इस अवसर मुख्यातिथि एवं प्राचार्य प्रो. डॉ. (श्रीमती) अजय सरीन ने अचीवर्स को श्रेणी में लगभग 250 छात्राओं को बोर्ड व स्कूल की गतिविधियों एवं स्कूल की परीक्षाओं में विभिन्न पद प्राप्त करने पर पुरस्कार व प्रमाण पत्र प्रदान कर सम्मानित किया गया। धन्यवाद ज्ञापन अरविन्दर बेरी ने ज्ञापित करते हुए सर्वजनों का तहे दिल से धन्यवाद किया एवं पुरस्कृत छात्राओं को बधाई दी। इस अवसर पर कोलॉज एवं कॉलेजिएट स्कूल के अध्यापकगण और नॉन टीचिंग स्टाफ के सदस्य भी उपस्थित रहे। कार्यक्रम का समापन राष्ट्रगान के साथ हुआ।

You may also like

Leave a Comment