Saturday, April 20, 2024
Home एजुकेशन APJ कॉलेज ऑफ़ फाइन आर्ट्स में 7 दिवसीय NSS कैंप की हुई शुरुआत

APJ कॉलेज ऑफ़ फाइन आर्ट्स में 7 दिवसीय NSS कैंप की हुई शुरुआत

by News 360 Broadcast

न्यूज़ 360 ब्रॉडकास्ट (जालंधर/एजुकेशन)

शहर का एपीजे कॉलेज ऑफ फाइन आर्ट्स जहां एक तरफ विद्यार्थियों के शैक्षणिक विकास के प्रति तत्पर रहता है वहीं दूसरी तरफ उनके बहुपक्षीय विकास को भी अधिमानता देता रहता है और इसके लिए विभिन्न गतिविधियों का आयोजन कॉलेज में होता ही रहता है। कॉलेज के एनएसएस विंग की तरफ से एनएसएस के सात दिवसीय कैंप का प्रारंभ किया गया। कॉलेज की प्रिंसिपल मैडम डॉ. नीरजा ढींगरा ने इस कैंप का उद्घाटन करते हुए कहा कि मुझे प्रसन्नता है कि हमारे कॉलेज के विद्यार्थी अपने बहुपक्षीय विकास के लिए विभिन्न गतिविधियों में प्रतिभागिता करने के लिए हमेशा प्रस्तुत रहते हैं।

एनएसएस विंग द्वारा लगाए जा रहे संस्पंदन कैंप में लोगों को पर्यावरण के संरक्षण के लिए जागरूक भी किया जाएगा और इससे संबंधित विद्वत जनों को कॉलेज में बुलाकर कॉलेज के विद्यार्थियों को भी पर्यावरण के महत्त्व से परिचित करवाया जाएगा। मैडम ढींगरा ने सस्टेनेबल डेवलपमेंट गोल्स के बारे में भी बात की और कहा कि एनएसएस कैंप के वॉलिंटियर्स निश्चित रूप से लोगों में इसके प्रति जागरूकता लाएंगे। एनएसएस कैंप की प्रभारी डॉ.सिम्की देव ने विद्यार्थियों को एनएसएस के उद्देश्य एवं महत्व से परिचित करवाते हुए कहा कि एनएसएस नेशनल सर्विस स्कीम है जो की मिनिस्ट्री आफ यूथ अफेयर्स एंड स्पोर्ट्स गवर्नमेंट ऑफ़ इंडिया के अंतर्गत आता है।

उन्होंने ‘Anthropocene Epoch’ विषय पर अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि मनुष्य विकास के नाम पर प्रकृति को बहुत नुकसान पहुंचा चुका है। इसी कारण से ग्लोबल वार्मिंग जैसी समस्याओं का आज उसे सामना करना पड़ रहा है। अगर समय रहते हुए हम प्रकृति के संरक्षण के प्रति सजग नहीं हुए तो एक दिन हमारा अस्तित्व ही खत्म हो जाएगा। कैंप के दूसरे टेक्निकल सेशन में ऑक्सफोर्ड हॉस्पिटल से डॉक्टर एचएस ढींगरा एवं डॉक्टर अभिलाक्ष ने CPR की विस्तृत जानकारी विद्यार्थियों को दी।

उन्होंने पंजाब से युवाओं के निरंतर प्रवास और यहां पर बुजुर्गों के अकेले रह जाने की पीड़ा को भी व्यक्त करते हुए कहा कि पंजाब के काफी युवक विदेश में बसने जा रहे हैं और यहां पर केवल बुजुर्ग ही रह जाते हैं उनकी सेहत की देखभाल करने के लिए भी एनएसएस वॉलिंटियर्स को अस्पताल के साथ कंधे से कंधा मिलाकर चलते हुए उनकी मदद करनी होगी। एनएसएस कैंप में कॉलेज के 50 विद्यार्थियों ने बड़े उत्साह एवं जोश से इसमें भाग लिया और आने वाले दिनों में भी विद्यार्थियों को कैंप के अंतर्गत विभिन्न विषयों पर व्याख्यान भी दिए जाएंगे और उनको पर्यावरण के संरक्षण के प्रति जागरूक भी किया जाएगा।

You may also like

Leave a Comment