Tuesday, April 16, 2024
Home एजुकेशन KMV में इंडस्ट्री एकेडमीया मीट का हुआ सफल आयोजन

KMV में इंडस्ट्री एकेडमीया मीट का हुआ सफल आयोजन

by News 360 Broadcast

विभिन्न क्षेत्रों के 37 इंडस्ट्री एक्सपर्ट्स हुए छात्राओं के रूबरू

न्यूज़ 360 ब्रॉडकास्ट (जालंधर/एजुकेशन)

जालंधर: शहर के कन्या महा विद्यालय के दीन दयाल उपाध्याय कौशल केंद्र के द्वारा इंडस्ट्री एकेडमीया मीट-2024 का सफल आयोजन करवाया गया। विद्यार्थियों को रोज़गार के उचित अवसरों की जानकारी प्रदान करने के साथ-साथ मौजूदा समय की ज़रूरतों के अनुसार सक्षम उद्यमी एवं प्रोफेशनल्स बनाने एवं सीखते हुए कमाने की अवधारणा के विकास के उद्देश्य से आयोजित हुई इस मीट में मीडिया एंड एंटरटेनमेंट स्किल काउंसिल से मैडम पूजा अरोड़ा, अनहद स्टूडियो से सुखदीप सिंह, आईट्रॉनिक्स सॉल्यूशंस से करण अरोड़ा, तुषार हेयर एंड ब्यूटी हब से तुषार बंसल, श्रीमन अस्पताल जालंधर से अमन, न्यू रूबी अस्पताल से डाइटिशियन कमलदीप सिंह औजला, प्रियाज़ मेकओवर स्टूडियो से मैडम प्रिया अरोड़ा, जसप्रीत मेकओवर से मैडम जसप्रीत कौर, हायली फैशन इंडस्ट्री से श्री राकेश पाठक आदि सहित रिटेल मैनेजमेंट, न्यूट्रिशन एक्सरसाइज एंड हेल्थ, टैक्सटाइल डिजाइन एंड अपैरल टेक्नोलॉजी, मैनेजमेंट एंड सेक्रेटेरियल प्रैक्टिस, ब्यूटी एंड वैलनेस, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस एंड डाटा साइंस, हॉस्पिटैलिटी एंड टूरिज्म जैसे क्षेत्रों के 37 इंडस्ट्री एक्सपर्टस ने शिरकत की।

आए हुए सभी मेहमानों का स्वागत करते हुए विद्यालय प्रिंसिपल प्रो. अतिमा शर्मा द्विवेदी ने अपने संबोधन के दौरान कहा कि कन्या महा विद्यालय समय की मांग के अनुसार छात्राओं को हुनरमंद बनाने के लिए ना केवल नए कोर्सेज़ को डिज़ाइन करने की इच्छा रखता है बल्कि पढ़ाई जा रहे सिलेबस में भी समय की ज़रूरत के अनुसार बदलाव करने में अग्रणी है ताकि शिक्षा हासिल कर रहे विद्यार्थी पढ़ाई पूरी करने के बाद नौकरियों के लिए संपूर्ण रूप से तैयार हो सकें। स्किल डेवलपमेंट की बात करते हुए उन्होंने कहा कि विद्यार्थी टिकाऊ विकास के मॉडल की जानकारी भी निरंतर हासिल कर रहे हैं जो कि विशेष तौर पर लड़कियों के लिए बेहद अनिवार्य है। उन्होंने बताया कि कन्या महा विद्यालय इस क्षेत्र का पहला कॉलेज है जिसको भारत सरकार के द्वारा दीन दयाल उपाध्याय कौशल केंद्र के साथ सम्मानित किया गया और उस समय से लेकर अब तक कन्या महा विद्यालय लगातार स्किल डेवलपमेंट में उच्च स्तरीय शिक्षा विद्यार्थियों को प्रदान करने के लिए पूर्ण तौर से प्रतिबध है।

इसके अलावा उन्होंने इस सेंटर के अंतर्गत विद्यालय को स्किलहब की प्राप्ति भी एक विशेष उपलब्धि बताया। मौजूदा समय में स्किल एजुकेशन की ज़रूरत पर ज़ोर देते हुए उन्होंने कहा कि उच्च शिक्षा के क्षेत्र में कौशल पर आधारित शिक्षा अनिवार्य तौर से शामिल की जानी चाहिए ताकि कुशल पेशावर एवं उद्यमी पैदा कर देश के विकास में अपना योगदान डाला जा सके। इसके साथ ही उन्होंने कौशल विकास के क्षेत्र में कन्या महाविद्यालय के कौशल केंद्र के द्वारा किए जा रहे निरंतर गंभीर प्रयासों की भी भरपूर सराहना की। उल्लेखनीय है कि इस प्रोग्राम के दौरान स्किल एजुकेशन प्राप्त कर रही छात्राओं के द्वारा अपने संबंधित इंडस्ट्री एक्सपर्ट से अपने क्षेत्र में रोज़गार के अवसर के संबंध में विस्तार से जानकारी भी हासिल की गई।

इसके साथ ही इस मीट के दौरान विभिन्न विभागों की होनाहार छात्राओं को उनकी विलक्षण प्राप्तिओं के लिए सम्मानित भी किया गया। डॉ. गोपी शर्मा, डायरेक्टर, कौशल केंद्र ने कन्या महा विद्यालय में आए हुए सभी मेहमानों का हार्दिक धन्यवाद किया। मैडम प्रिंसिपल ने इस प्रोग्राम के सफल आयोजन के लिए कौशल केंद्र विभाग के समूह प्राध्यापकों के द्वारा किए गए प्रयासों की भी भरपूर प्रशंसा की।

You may also like

Leave a Comment