Monday, April 15, 2024
Home जालंधर किसान आंदोलन: पंजाब का ये टोल प्लाजा करवाया गया फ्री, 3 दिवसीय धरने पर बैठे किसान

किसान आंदोलन: पंजाब का ये टोल प्लाजा करवाया गया फ्री, 3 दिवसीय धरने पर बैठे किसान

by News 360 Broadcast

न्यूज़ 360 ब्रॉडकास्ट (लुधियाना/पंजाब)

लुधियाना: पंजाब भर में किसान आंदोलन जोरों पर है। जिसके चलते किसानों द्वारा बीते दिनों कई टोल प्लाजा भी फ्री करवाए गए थे। अब फिर किसानों ने लुधियाना के जगराओं के टोल पलाज़ा को फ्री करवा दिया है। किसान आंदोलन के चलते आज मंगलवार की सुबह किसानों ने लुधियाना ग्रामीण के तहत आते जगराओं टोल प्लाजा पर कब्जा कर अपना धरना शुरू कर दिया। धरने के चलते किसानों ने आम जनता के लिए टोल बिलकुल फ्री कर दिया है। जानकारी के अनुसार इस धरने का ऐलान किसान नेताओं ने बीते सोमवार किया था।

सूत्रों के अनुसार किसान अपनी मांगों को लेकर शंभु बार्डर पर डेट किसानों पर हुए अत्याचार से नाराज हैं। जिसको लेकर यहां के किसानों ने बीते सोमवार ऐलान किया था कि पंजाब के टोल प्लाजा पर तीन दिन तक धरना देकर टोल फ्री करवाया जाएगा। जिसके चलते मंगलवार को किसानों ने गांव चौकीमान टोल प्लाजा और सुधार के नजदीक गांव रकबा में बने टोल प्लाजा पर धरना शुरू कर दिया है। किसानों ने टोल प्लाजा को करवा दिया।

वहीं इस दौरान किसान नेताओं का कहना है कि सरकार बैठकों के नाम पर किसानों को बहला रही है। इतना ही नहीं सरकार किसानों को दो फाड़ करने में जुटी है, ताकि सरकार को फसलों पर एमएसपी ना देनी पड़े। लेकिन किसान अपना हक लेने के लिए दिल्ली तक पहुंचेंगे। चाहे सरकार उन्हें रोकने के लिए जितनी मर्जी कोशिश कर ले।

किसानों के समर्थन में उतरी कांग्रेस, BJP नेता के दफ्तर के आगे किया धरना प्रदर्शन

पंजाब भर के किसान फिर एक बार अपनी मांगों को लेकर सड़कों पर उतर आए हैं। आज किसान संगठनों ने भारत बंद की कॉल दी थी। जिसके चलते पंजाब भर में बंद का असर देखने को मिला। जालंधर में भी भारत बंद के चलते सभी बड़े बाजार बंद रहे। किसानों के इस आंदोलन के समर्थन में आज कांग्रेस भी उतर आई है। कांग्रेसी आज भाजपा के पूर्व कैबिनेट मंत्री मनोरंजन कालिया के ऑफिस के बाहर धरने पर बैठे थे। इस दौरान उनके साथ कई किसान नेता भी मौजूद रहे। कांग्रसियों ने धरने के दौरान बीजेपी के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

वहीं मौके पर मौजूद सुरक्षा बलों ने भी नेता के दफ्तर के आसपास बैरिकेडिंग कर दी थी ताकि उसके अंदर कोई न जा सके। यह धरना प्रदर्शन कांग्रेस के पूर्व विधायक लाडी शेरोवालिया के नेतृत्व में करवाया गया था। इस दौरान उन्होंने कहा कि प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष राजा वडिंग ने आदेश दिए थे कि किसानों के समर्थन में बीजेपी नेताओं के आवास घेरे जाएं। जिसके चलते आज जिला कांग्रेस द्वारा सेंट्रल हलके से पूर्व विधायक और पूर्व मंत्री मनोरंजन कालिया के दफ्तर के बाहर प्रदर्शन किया गया। वहीं लाडी शेरोवालिया का कहना है कि आज केंद्र सरकार की पॉलिसी के चलते किसान सड़कों पर आने के लिए मजबूर हुए हैं।

वादों से मुकरी केंद्र सरकार

उन्होंने कहा कि इससे पहले भी किसान लगातार एक साल तक अपनी मांगों को लेकर दिल्ली धरने पर बैठे रहे थे। उस समय काफी किसानों ने इस आंदोलन के दौरान अपनी जान भी गवाई थी। उस समय केंद्र ने उनकी मांगें मानने का वादा किया था। लेकिन उसके बावजूद सरकार ने उनकी मांगे पूरी नहीं की। जिसके चलते फिर किसानों को केंद्र सरकार के खिलाफ प्रदर्शन करना पड़ रहा है।

You may also like

Leave a Comment