Saturday, April 20, 2024
Home एजुकेशन HMV में 2 दिवसीय आर्ट इको विषय पर अंतरर्राष्ट्रीय वर्कशाप आयोजित

HMV में 2 दिवसीय आर्ट इको विषय पर अंतरर्राष्ट्रीय वर्कशाप आयोजित

by News 360 Broadcast

न्यूज़ 360 ब्रॉडकास्ट (जालंधर/एजुकेशन)

जालंधर: शहर के हंसराज महिला महाविद्यालय में प्राचार्या प्रो.डॉ. (श्रीमती) अजय सरीन के दिशा-निर्देश में डीपीटी प्रायोजित विज्ञान की स्थिरता अंत: विषय पर अन्तर्राष्ट्रीय वर्कशाप का आयोजन किया गया। जिसका विषय आई इको-2024 रहा। समस्त वर्कशाप का आयोजन विजुअल एवं प्रफोर्मिंग आर्टस एंड साइंस द्वारा श्रेयसी इंटरनेशनल आर्ट एंड कल्चर संगठन, भारत के सौजन्य से आयोजित किया गया। समस्त आयोजन स्किल कोर्सिस अध्यक्ष डॉ. राखी मेहता, डीन इनोवेशन एंड रिसर्च डॉ. अंजना भाटिया के संरक्षण में किया गया।

वर्कशाप का शुभारंभ संस्था परंपरानुसार गणमान्य अतिथियों को ग्रीन प्लांटर भेंट कर किया गया। प्राचार्या डॉ. सरीन ने गणमान्य सदस्यों श्रेयसी सिंह मनु (एसोसिएट पार्टनर: सन्त पीटरसबुर्ग सैंटर फार ह्यूमैनिटेरियन प्रोग्राम, रशिया, सिरोटीना नतालिया, डायरेक्टर टेवर आर्ट कालेज, रशिया, प्रज्ञारकीना एवजैनी ऐनाटोलिवना एसोसिएट सदस्य सक्त पीटरसबुर्ग, अकादमी आफ साइंस एंड आर्ट को प्लांटर भेंट कर संस्था प्रांगण में हार्दिक अभिनंदन किया।

इस अवसर पर एशियन कलाकारों की टीम में सुनदुई ओई गलोना, जैलेनईया , सेलेजन्वा, लिदिया व भारतीय कलाकार कविता, हस्तीर का भी अभिनंदन किया गया। प्राचार्या डॉ. सरीन ने आयोजक टीम को बधाई दी व कहा कि वास्तव में यह वर्कशाप एक अद्भुत प्रयास है। उन्होंने कहा कि कला एक साधना है। इस वर्कशाप के माध्यम से निश्चय ही कलाप्रेमी अपनी कला को पल्लवित करेंगे। कलाप्रेमियों के लिए अपनी कला को प्रस्तुत करने का यह एक स्वर्णिम मंच है। श्रेपसी सिंह मनु ने भी संस्था में आकर स्वयं को आनंदित महसूस किया व कहा कि विभाग एवं छात्राओं की कला के प्रति समर्पण अत्यधिक प्रशंसनीय है।

उन्होंने विभाग व कालेज को इस आयोजन हेतु बधाई दी। इस अवसर पर पंजाब यूनियन चंडीगढ़ सीटी यूनिवर्सिटी शाहपुर, गुरु काशी यूनिवर्सिटी तलवंडी साबो, बठिंडा, एम.के. कालेज आफ एजुकेशन, अकाल डिग्री कालेज फार वीमेन, दशमेश गल्र्स कालेज मुकेरियां से रिसर्च स्कोलर व प्रोफेसर ने प्रतिभागिता की। इस अवसर पर विभाग से डॉ. नीरू भारती शर्मा, डॉ. शैलेन्द्र व अन्यसदस्यों ने भी सहभागिता की।

You may also like

Leave a Comment