KMV में वर्तमान मांग के अनुसार चलाए जा रहे कोर्सिस के लिए वल्र्ड क्लास इन्फ्रास्टक्चर स्थापित - News 360 Broadcast
KMV में वर्तमान मांग के अनुसार चलाए जा रहे कोर्सिस के लिए वल्र्ड क्लास इन्फ्रास्टक्चर स्थापित

KMV में वर्तमान मांग के अनुसार चलाए जा रहे कोर्सिस के लिए वल्र्ड क्लास इन्फ्रास्टक्चर स्थापित

Listen to this article

न्यूज़ 360 ब्रॉडकास्ट (एजुकेशन न्यूज़,जालंधर) World class infrastructure set up for courses being run as per current demand in KMV  के.एम.वी. की स्टेट-ऑफ-दी- आर्ट हाईटैक लैब छात्राओं को प्रदान कर रही हैं वैश्विक स्तरीय प्रैक्टीकल शिक्षा भारत की विरासत एवं ऑटोनामस संस्था, कन्या महा विद्यालय, जालन्धर हमेशा से ही विद्यार्थियों को वल्र्ड क्लास गुणवत्तापूर्ण शिक्षा देने के लिए अग्रसर रहा है। इसी कड़ी में के.एम.वी. में वल्र्ड क्लास इन्फ्रास्टक्चर तथा स्टेट- ऑफ-दी आर्ट हाईटैक लैबस सुसज्जित है। जिनमें राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय मांग के अनुसार रिसर्च को बढ़ावा देने के लिए आधारभूत सरंचना बनाई गई है। कालेज प्राचार्या प्रो. अतिमा शर्मा द्विवेदी ने बताया कि के.एम.वी. विद्यार्थियों की शिक्षा में बहु आयामी पक्षों को उभारने के लिए विभिन्न नवीनतम प्रयास करता रहता है उसी कड़ी में के.एम.वी. में चल रहे कोर्सिस के साथ-साथ वर्तमान समय की मांग के अनुसार विभिन्न न्यू ऐज प्रोग्रामों की शुरूआत के साथ इन्फास्ट्रक्चर में भी बढ़ौतरी की गई है। यह इनोवेटिव लैब छात्राओं को अपने सम्बन्धित क्षेत्र में शोध एवं नवीनताकारी के लिए एक अनुकूल माहोल प्रदान करने के साथ- साथ प्रैक्ट्रीकल ट्रेंनिग का आधार बनती हैं तांकि छात्राओं के हुनर को विकसित करते हुए उन्हें मुकाबले के इस युग में अपने आपको स्थापित करने के काबिल बनाया जा सके। विद्यालय में नये ब्लॉक को भी बनाया गया है जिसमें कई नई लैब भी स्थापित की गई हैं। इन सभी वैश्विक स्तरीय लैब से प्राप्त ट्रेंनिग के बल पर ही के.एम.वी. की छात्राओं ने विभिन्न क्षेत्रों में 14 इन्टलेक्चुअल प्रापर्टी राइटस हासिल किए हैं। बी.एस.सी.आई.टी., एम.एस.सी. बॉटनी, जुआलोजी, कैमिस्ट्री, फिजिक्स , फैशन डिजाइनिंग तथा एम.ए. जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन जैसे विभिन्न प्रोग्रामों में छात्राओं को व्यहारिक ट्रेंनिग प्रदान की जाती है। इसके साथ ही के.एम.वी. द्वारा सफलतापूर्वक आर्टीफिशियल इंटेलिजेंस एंड डाटा साइंस, होस्पिटेलिटी एंड टूरिज्म , टैक्सटाइल डिजाइन एंड अपरेल टैक्नॉलोजी, एनीमेशन, ब्युटी एंड वैलनेस, रिटेल मैनेजमैंट, मैनेजमैंट एंड सैकरीटेरियल प्रैक्टसी तथा न्यूट्रीशियन एक्सरसाइज एंड हैल्थ जैसे स्किल डिवैलपमैंट प्रोग्राम चलाए जा रहे हैं। जिनके द्वारा छात्राओं को इंटरर्नशिप एवं इंडस्ट्री टाईअपस के साथ ज्यादा से ज्यादा एक्सपोज़र प्रदान किया जाता है। उल्लेखनीय है कि विद्यालय द्वारा चाइलड केयर (नैनी) तथा ओल्ड एज केयर, अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर प्रमानित सर्टीफिकेशन सहित, क्षेत्र में पहिली बार शुरू किए गए हैं। के.एम.वी. में स्थापित लैबस में से पोस्ट ग्रैजुएट डिपार्टमैंट आफ फिजिक्स की स्पैक्ट्रो स्पोपिक लैब, कम्पूटेशनल लैब, इलैक्ट्रानिक्स लैब, जनरल फिजिक्स लैब, कनडैंसड मैटर लैब एवं न्यूकिलर लैबस प्रमुख हैं जिनमें छात्राओं को फिजिक्स के विभिन्न पक्षों को व्यवहारिक तरीके से छात्राओं के साथ रुबरु करवाया जाता है।

एक करोड़ रुपए की लागत से एडवांस करैक्टराईजेशन लैबस भी स्थापित की गई है जिसमें बनाए गए इनोवेशन हब में छात्राओं के कलात्मक और नवीनतम एप्टीटियूट को विकसित करने के लिए काम किया जा रहा है। कालेज के पोस्ट ग्रैजुएट डिपार्टमैंट आफ कम्पयूटर साईंस एंड आई. टी. में 10 लैब स्थापित की गई है जिसमें के.एम.वी. फाईबर फोरैंसिक लैब बनाई गई है जिसमें हाई एंड फोरैंसिक सर्वर और वर्क स्टेशन स्थापित किए गए है जो इस रिजन की बैस्ट फाईबर फोरैंसिक लैब में से एक है। इसके साथ-साथ के.एम.वी. के आई टी डिपार्टमैंट में एनीमेशन हब विभिन्न सुविधाओं से सुसज्जित बनाया गया है जिसमें नवीनतम आधारभूत सरंचना के साथ-साथ सिंटिक टेबलस भी स्थापित किया गया है जो इस रिजन में सिर्फ के.एम.वी. में ही है। इसी लैब में हाई लैवल का आई 7 कम्प्यूटर सिस्टम भी लगाया गया है। के.एम.वी. में मैनेजमैंट एंड सैकीटेरियल प्रैक्टिसि लैब बनाई गई है जिसमें छात्राओं को डेटा प्रोसैसिंग की व्यवहारिक तरीके से ट्रेनिंग दी जाती है। कालेज में डिजिटल लैंगुऐज लैब में 30 टर्मिनलस है जो स्पोकन इंगलिश, आईलैटस और अन्य कोसिर्स के लिए प्रयोग किए जाते है। कालेज के लाईफ सैंसिस विभाग में 3 जुआलोजी लैब, दो बॉटनी लैब, 3 बायोटैक्नोलॉजी लैबस और एक बायोइनफारमैटिक्स लैब बनाई गई है जो साईंस के विद्यार्थियों को साईंस के क्षेत्र में रिसर्च करने के लिए और साईंस से संबंधित विभिन्न आयामों को व्यवहारिक तरीके से समझने में कारगर साबित हो रही है। कालेज के पोस्ट ग्रैजुएट डिर्पाटमैंट आफ कामर्स एंड बिजनैस एडमिनीस्ट्रेशन में एकाऊंटिंग लैब स्थापित की गई है। जहां कामर्स के विद्यार्थियों को टैली की प्रैक्टीकल ट्रेनिंग दी जाती है। इसके साथ-साथ एम.वाक. के विद्यार्थियों को रिसर्च मैथडोलॉजी से संबंधित ट्रेनिंग दी जा रही है। कालेज में रिटेल लैब में छात्राओं को स्टोर आपरेशनस, विजुअल मर्चेंडाइजिंग, रिटेल सैलिंग स्किल्स, ई-रिटेलिंग और आई.टी. सोल्यूशनस इन रिटेल की व्यवहारिक ज्ञान दिया जा रहा है। के.एम.वी. में छात्राओं में प्रोफैशनल स्किल को बढ़ाने के लिए पोस्ट ग्रैजुएट डिपार्टमैंट आफ जोर्निलिस्म एंड मास कम्यूनिकेशन में आडियो स्टूडियो स्थापित किया गया है जिसमें के.एम.वी. रेडियो वाओ आनलाईन रेडियो चलाया जा रहा है। इसके साथ-साथ कालेज में स्थापित वीडियो स्टूडियो में छात्राओं को टी.वी. एंकरिंग, न्यूज़ रीडिंग, और फोटोग्राफी से संबंधित व्यवहारिक ट्रेनिंग दी जा रही है। कालेज के पोस्ट ग्रैजुऐट डिपार्टमैंट आफ फैशन डिजाइनिंग में फैशन वर्कशाप लैब, ड्रैपिंग लैब, सीएडी लैब, टैक्सटाईल वर्कशाप लैब, पैट्रन डिवैल्पमैंट लैब और इलीस्ट्रेशन लैब व गारमैंट कंस्ट्रक्शन लैब स्थापित की गई है। इसके साथ-साथ कालेज के डिपार्टमैंट आफ होम साईंस द्वारा हाईटैक फूड लैब, क्लोथिंग, व टैक्सटाईल लैब एवं हियूमैन डिवैल्पमैंट लैब छात्राओं को होमसाईंस के क्षेत्र में व्यवहारिक शिक्षा देने के लिए चलाई जा रही है। कालेज प्राचार्या प्रो. अतिमा शर्मा द्विवेदी ने कहा कि के.एम.वी. इस रिजन का पहला कालेज है जिसे भारत सरकार द्वारा डीबीटी स्टार कालेज का स्टेटस प्राप्त हुआ है। इसके साथ-साथ के.एम.वी. के हैरीटेज स्टेटस को फिस्ट ग्रांट भी प्रदान की गई है। इन सभी सुविधाओं के माध्यम से के.एम.वी. छात्राओं को अंतरराष्ट्रीय स्तर की सुविधाएं और अवसर प्रदान कर रहा है ताकि उनको स्किल ओरिएंटिड शिक्षा देकर रोज़गार प्राप्त करने के काबिल बनाया जा सके।

 

CATEGORIES
Share This

COMMENTS

Wordpress (0)