गोपाल नगर फायरिंग कांड में कमिश्नरेट पुलिस की बड़ी कामयाबी, पंचम गैंग के 3 सदस्यों को किया गिरफ्तार - News 360 Broadcast
गोपाल नगर फायरिंग कांड में कमिश्नरेट पुलिस की बड़ी कामयाबी, पंचम गैंग के 3 सदस्यों को किया गिरफ्तार

गोपाल नगर फायरिंग कांड में कमिश्नरेट पुलिस की बड़ी कामयाबी, पंचम गैंग के 3 सदस्यों को किया गिरफ्तार

Listen to this article

 जालंधर: बीते 14 अप्रैल 2022 को गोपाल नगर में हुई फायरिंग के मामले में पुलिस के हाथ बड़ी सफलता लगी है। खूंखार गैंगस्टरों और अपराधियों पर शिकंजा कसते हुए जालंधर कमिश्नरेट पुलिस ने वारदात में शामिल कुख्यात पंचम गिरोह के 3 सदस्यों को गिरफ्तार कर लिया। जिनकी पहचान गांव सुभाना निवासी अमित कल्याण उर्फ ​​सुभाना (32), दीपक भट्टी उर्फ ​​काका (25) और निखिल उर्फ ​​साहिल उर्फ ​​केला (29) रास्ता मोहल्ला, जालंधर निवासी के रूप में हुई है।

पुलिस आयुक्त गुरप्रीत सिंह तूर ने बताया कि पिछले सप्ताह अपराध के बाद कई टीमों का गठन किया था जिसके बाद अमित और दीपक को देहरादून, उत्तराखंड से गिरफ्तार किया गया था जबकि निखिल को जालंधर से गिरफ्तार किया गया था। पुलिस आयुक्त गुरप्रीत सिंह तूर ने बताया कि गुरदेव नगर निवासी हिमांशु ने शिकायत दर्ज कराई थी कि गिरफ्तार तीनों अपराधियों ने अपने और साथियों के साथ 14 अप्रैल को रात 9 बजकर 40 मिनट पर गोपाल नगर मोहल्ले में हमला किया था।

 

पुलिस आयुक्त ने कहा कि शिकायतकर्ता ने आगे बताया कि जब उसने उन्हें भगाने की कोशिश की तो अपराधियों ने उस पर गोलियां चला दीं, जिसमें टोबरी मोहल्ला के हरमेल सिंह उर्फ ​​देवगन नाम के एक यात्री को चोट लग गई, जिससे वह घायल हो गया। पुलिस आयुक्त ने कहा कि इन अपराधियों पर एनडीपीएस एक्ट और आर्म्स एक्ट से लेकर हत्या के प्रयास तक के कई आपराधिक मामले दर्ज हैं, जिसके लिए ये जेलों में बंद थे। उन्होंने कहा कि आरोपी अमित कल्याण उर्फ ​​सुभाना पर कई आपराधिक मामले दर्ज हैं और सितंबर, 2021 को जमानत पर रिहा कर दिया गया, जबकि दीपक भट्टी के खिलाफ तीन प्राथमिकी दर्ज की गईं और दिसंबर, 2021 को भी जमानत पर रिहा कर दिया गया। इसी तरह तीसरे आरोपी निखिल उर्फ केला पर भी अलग-अलग थानों में 6 मामले दर्ज हैं।

 

पुलिस आयुक्त ने आगे कहा कि कमिश्नरेट पुलिस ने मानव और तकनीकी खुफिया दोनों के माध्यम से अपराध की जांच की जिसके बाद आरोपियों के ठिकाने का पता लगाया गया। उन्होंने कहा कि विशेष टीमों ने आरोपियों के पास से एक 32 बोर की पिस्तौल भी बरामद की है जिसका इस्तेमाल चार जिंदा राउंड के साथ अपराध में किया गया था। तूर ने आगे कहा कि सहायक पुलिस आयुक्त निर्मल सिंह, सीआईए प्रभारी निरीक्षक भगवंत सिंह और एसओयू जालंधर के उप निरीक्षक अशोक कुमार के नेतृत्व में विशेष टीमों ने एक सप्ताह के भीतर दोषियों को गिरफ्तार किया है।

CATEGORIES
TAGS
Share This

COMMENTS

Wordpress (0)