भारत के प्रधानमंत्री, गृह मंत्री और पंजाब के मुख्यमंत्री ने एलपीयू के विद्यार्थियों को उनकी उपलब्धियों के लिए सम्मानित किया - News 360 Broadcast
भारत के प्रधानमंत्री, गृह मंत्री और पंजाब के मुख्यमंत्री ने एलपीयू के विद्यार्थियों को उनकी उपलब्धियों के लिए सम्मानित किया

भारत के प्रधानमंत्री, गृह मंत्री और पंजाब के मुख्यमंत्री ने एलपीयू के विद्यार्थियों को उनकी उपलब्धियों के लिए सम्मानित किया

Listen to this article

*एलपीयू के लिए वर्ष 2022 अति महत्वपूर्ण वर्ष सिद्ध रहा

* कॉमनवेल्थ गेम मेडल जीतने वाले विश्वविद्यालय के विद्यार्थियों से लेकर 3 करोड़ तक प्लेसमेंट हासिल करने वाले विद्यार्थियों और ग्लोबल टॉप 75 की सूची में शामिल विश्वविद्यालय तक; एलपीयू के लिए साल 2022 कई उपलब्धियों से भरा रहा

न्यूज़ 360 ब्रॉडकास्ट (एजुकेशन न्यूज़ ,जालंधर) : Prime Minister of India, Home Minister and Chief Minister of Punjab felicitated LPU students for their achievements : लवली प्रोफेशनल यूनिवर्सिटी (एलपीयू) के लिए वर्ष 2022 काफी सफल वर्ष साबित हुआ है। निजी तौर पर एलपीयू के चांसलर डॉ. अशोक कुमार मित्तल सांसद (राज्यसभा) बन गए, जबकि यूनिवर्सिटी और इसके विद्यार्थियों का नाम विभिन्न क्षेत्रों में नई ऊंचाइयां के साथ और अधिक उज्जवल हुआ। शानदार वैश्विक रैंकिंग, रिकॉर्ड-ब्रेकिंग प्लेसमेंट, भारत की सबसे बड़ी संख्या में पेटेंट दाखिल, और विभिन्न इनोवेशन और स्टार्ट-अप विचारों पर काम करने आदि के साथ विश्वविद्यालय द्वारा संचालित प्रत्येक क्षेत्र में विकास हुआ है। प्लेसमेंट के मोर्चे पर, एलपीयू ने हाल ही में 3 करोड़ रुपये वार्षिक वेतन पर एक इंजीनियरिंग स्नातक के साथ रिकॉर्ड-ब्रेकिंग प्लेसमेंट हासिल की । 2022 बैच के लिए, इंजीनियरिंग के लिए उच्चतम पैकेज 64 लाख रहा। कठिन मार्किट परिदृश्य के बावजूद, 2022 का उच्चतम पैकेज पिछले वर्ष के उच्चतम 42 लाख रुपये से 50% अधिक रहा । एक और बेंचमार्क सेट करते हुए 2022 बैच के विभिन्न कार्यक्रमों के विद्यार्थयों को 8400 से अधिक ऑफर मिले , जहां 5000 से अधिक ऑफर फॉर्च्यून 500 कंपनियों द्वारा दिए गए हैं। एलपीयू के विद्यार्थियों ने विश्वविद्यालय में एक अपराजेय प्लेसमेंट सपोर्ट सिस्टम का लाभ उठाया और दुनिया की अग्रणी कंपनियों में ड्रीम पैकेज हासिल किया।

ऑफिस ऑफ द कंट्रोलर जनरल ऑफ पेटेंट्स, डिजाइन एंड ट्रेडमार्क्स (सीजीपीडीटीएम) के अनुसार अनुसंधान के क्षेत्र में, एलपीयू ने एक शैक्षणिक संस्थान द्वारा आवेदन किए गए पेटेंट की अधिकतम संख्या दर्ज की है। यहां एलपीयू ने व्यक्तिगत रूप से सभी आईआईटीज़ को भी पीछे छोड़ दिया। रैंकिंग में भी एलपीयू उन विश्वविद्यालयों की प्रमुख सूची में है, जिन्हें टाइम्स हायर एजुकेशन रैंकिंग सूची में स्थान दिया गया । साल-दर-साल तेजी से सुधार की प्रतिबद्धता प्रदर्शित करते हुए एलपीयू को 106 देशों के हजारों विश्वविद्यालयों के बीच ‘द इम्पैक्ट रैंकिंग-2022 ‘ में 74वां स्थान मिला है। एलपीयू शीर्ष कनाडाई विश्वविद्यालय, टोरंटो विश्वविद्यालय और भारत के सभी भाग लेने वाले आईआईटीज़ , आईआईएम और केंद्रीय विश्वविद्यालयों से भी आगे है। एलपीयू को ‘द’ वर्ल्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग -2023′ में 23वां घोषित किया गया है, और अनुसंधान नवाचारों के लिए भारत के शीर्ष 10 आशाजनक परिसरों में भी सूचीबद्ध किया गया है। भारत सरकार की एनआईआरएफ रैंकिंग-2022 में भारत के सभी सरकारी और निजी विश्वविद्यालयों में एलपीयू 47वें स्थान पर है। शिक्षा मंत्रालय (भारत सरकार) ने भी एलपीयू को नवाचार और उद्यमिता के लिए एक सलाहकार संस्थान के रूप में चुना है।

शिक्षा के अंतर्राष्ट्रीयकरण के लिए, एलपीयू ने ‘गोएथे इंस्टीट्यूट जर्मनी’, ‘हेलसिंकी विश्वविद्यालय, फिनलैंड’; ‘ईएसएमई स्कूल ऑफ इंजीनियरिंग’, ‘पेरिस; विन्निपेग विश्वविद्यालय’ और ‘लॉरेंटियन विश्वविद्यालय, कनाडा’; एस्टन यूनिवर्सिटी, यूके; प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय (सिडनी) ऑस्ट्रेलिया; अकरा तकनीकी विश्वविद्यालय, घाना; लॉड्ज़ विश्वविद्यालय, पोलैंड; रेगा तकनीकी विश्वविद्यालय, लातविया; परदाना विश्वविद्यालय, मलेशिया आदि सहित दुनिया भर के विभिन्न शीर्ष विश्वविद्यालयों के साथ तालमेल किया। एलपीयू ने विशिष्ट प्रौद्योगिकी क्षेत्रों में प्रशिक्षण के लिए उत्कृष्टता केंद्र स्थापित करने के लिए एपम इंडिया के साथ उद्योग सहयोग पर ; डिजाइन साइंस और मशीन लर्निंग में विशेषज्ञता के लिए क्वांटिफी; और, सैटेलाइट संचार के लिए सैटकॉम इंडस्ट्री एसोसिएशन के साथ विभिन्न समझौता ज्ञापनों पर भी हस्ताक्षर किए। इसके विद्यार्थियों की कई उपलब्धियां भी वर्ष 2022 के लिए मुख्य आकर्षण हैं। इनमें प्रमुख रूप से शामिल 12 एनसीसी, एनएसएस और भांगड़ा के विद्यार्थियों को गणतंत्र दिवस -2023 परेड और समारोह के लिए चुना गया है। देश के खेल और सांस्कृतिक गतिविधियों को समृद्ध करने की अपनी विरासत को जारी रखते हुए एक विद्यार्थी को माननीय प्रधान मंत्री मोदी द्वारा खेल प्रवीणता के लिए सम्मानित किया गया है; केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने खेलो इंडिया यूनिवर्सिटी गेम्स की फर्स्ट रनर्स अप  ट्रॉफी दी; और, पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने एलपीयू के विद्यार्थियों  को राज्य के इंटर-यूनिवर्सिटी यूथ फेस्टिवल के लिए सेकेंड रनर-अप ट्रॉफी से सम्मानित किया। इसके अलावा, एलपीयू के एक छात्र के रजत पदक के साथ, भारतीय निशानेबाजों का दल मिस्र में पदक तालिका में शीर्ष पर रहा; और, इसके दो छात्र 2023 में दुबई में होने वाले अमेरिकी खेल के लिए “बेसबॉल यूनाइटेड” द्वारा चुने जाने वाले एकमात्र भारतीय बन गए हैं।

विश्वविद्यालय में विश्व प्रसिद्ध दिलजीत दोसांज, सतिंदर सरताज, गिप्पी ग्रेवाल, असीस कौर के शानदार प्रदर्शनों सहित कुछ बड़े पैमाने पर समारोह भी हुए। स्मार्ट इंडिया हैकाथॉन जैसी राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिताओं को पीएम मोदी ने वर्चुअली संबोधित किया, एफीसाइकिल-2022 का आयोजन भी बीते साल किया गया था। विद्यार्थियों के लिए अंतर्राष्ट्रीय और राष्ट्रिय हस्तियों जैसे कि विदेश और संस्कृति राज्य मंत्री मीनाक्षी लेखी, प्रमुख पालिसी प्लेयर शौर्य डोवाल , शार्क टैंक के उद्द्मी अशनील  ग्रोवर, अमन धत्तरवाल आदि से  प्रेरक बातचीत भी आयोजित की गई।

उल्लेखनीय है कि विद्यार्थियों  को उनकी पसंद के विभिन्न क्षेत्रों में विश्व स्तरीय मेंटरशिप और प्रशिक्षण प्रदान करते हुए, एलपीयू हर साल पिछले साल की तुलना में अधिक शानदार अर्जना करता आया  है।

CATEGORIES
Share This

COMMENTS

Wordpress (0)