KMV में कानूनी सेवा योजनाओं, मौलिक अधिकारों एंव कर्तव्यों के बारे में जानकारी प्रदान करता ऑनलाइन लेक्चर आयोजित - News 360 Broadcast
KMV में कानूनी सेवा योजनाओं, मौलिक अधिकारों एंव कर्तव्यों के बारे में जानकारी प्रदान करता ऑनलाइन लेक्चर आयोजित

KMV में कानूनी सेवा योजनाओं, मौलिक अधिकारों एंव कर्तव्यों के बारे में जानकारी प्रदान करता ऑनलाइन लेक्चर आयोजित

Listen to this article

न्यूज़ 360 ब्रॉडकास्ट(एजुकेशन न्यूज़ ,जालंधर ): Online lecture organized in KMV providing information about legal service schemes, fundamental rights and duties :भारत की विरासत एवं ऑटोनॉमस संस्था, कन्या महा विद्यालय, जालंधर के द्वारा सी.जे.एम.-कम-सेक्रेटरी के साथ मिलकर ज़िला कानूनी सेवा अथॉरिटी दफ्तर के दिशा निर्देशों के अंतर्गत कानूनी सेवा योजना, मौलिक अधिकारों एवं कर्तव्यों के बारे में ऑनलाइन लेक्चर का आयोजन करवाया गया। विद्यालय के स्टूडेंट वेलफेयर विभाग, पोस्ट ग्रेजुएट डिपार्टमेंट ऑफ इंग्लिश तथा पॉलिटिकल साइंस विभाग के द्वारा संयुक्त रूप से आयोजित किए गए इस लेक्चर में ज़िला कानूनी सेवा अथॉरिटी के कानूनी जागरूकता प्रोग्राम का पालन करते हुए समाज के हाशीयागत वर्गों एवं गरीब लाभपात्रों को कानूनी सहायता प्रदान करने के लिए कानूनी जागरूकता एवं आउटरीच के द्वारा नागरिकों के सशक्तिकरण के मद्देनज़र लंबे समय से चले आ रहे कानूनी मुद्दों के समाधान के बारे में जानकारी प्रदान करते एवं देश भर में चल रही इस मुहिम के बारे में बात करने के लिए इस समागम के दौरान श्रीमती हरप्रीत कौर स्रोत वक्ता के रूप में उपस्थित हुई। छात्राओं से संबोधित होते हुए उन्होंने समाज के हाशीयागत एवं गरीब वर्ग के मुद्दों के साथ-साथ उनके संभव समाधान के बारे में भारतीय न्यायपालिका की मौजूदा कारगुजारी पर विस्तार से चर्चा की। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि प्रत्येक नागरिक को अपने मौलिक अधिकारों की बात करने के साथ-साथ अपने मौलिक कर्तव्यों की ओर भी पूरा ध्यान देना चाहिए ताकि समाज कल्याण में हर कोई अपना बनता हुआ योगदान बढ़-चढ़ कर डाल सके। इसके साथ ही उन्होंने छात्राओं के द्वारा पूछे गए विभिन्न सवालों के जवाब भी बेहद सरल ढंग से दिए। विद्यालय प्रिंसिपल प्रो. अतिमा शर्मा द्विवेदी ने इस अवसर पर संबोधित होते हुए कहा कि देश की न्यायपालिका उसका मजबूत आधार बनती है जिसके द्वारा नागरिकों को समानता एवं न्याय में विश्वास के बारे में समझाया जा सकता है। उन्होंने कहा कि समय-समय पर ऐसी गतिविधियों का आयोजन किया जाना चाहिए ताकि कानूनी अर्थव्यवस्था, संविधान के द्वारा लोगों के लिए आवश्यक एवं मददगार कानून, समय-समय पर लागू की जाती विभिन्न समाज कल्याण की स्कीमों से लाभ प्राप्त करने की प्रक्रिया के संबंध में लोगों को जागरूक किया जा सके ताकि वह देश के निर्माण में अपना अहम रोल निभा सकें। इसके साथ ही उन्होंने सफल आयोजन के लिए डॉ. मधुमीत, डीन, स्टूडेंट वेलफेयर तथा डॉ. इकबाल सिंह पॉलीटिकल साइंस विभाग के द्वारा किए गए प्रयत्नों की भरपूर सराहना की।

CATEGORIES
Share This

COMMENTS

Wordpress (0)