बाढ़ में कंडम हुई कारों‌ को मारूती कंपनी ने कबाड़िए को बेचा, कबाड़िए ने नकली कागजात बना कमाए करोड़ों रुपए - News 360 Broadcast
बाढ़ में कंडम हुई कारों‌ को मारूती कंपनी ने कबाड़िए को बेचा, कबाड़िए ने नकली कागजात बना कमाए करोड़ों रुपए

बाढ़ में कंडम हुई कारों‌ को मारूती कंपनी ने कबाड़िए को बेचा, कबाड़िए ने नकली कागजात बना कमाए करोड़ों रुपए

Listen to this article

न्यूज़ 360 ब्रॉडकास्ट :(जालंधर)2019 में बाढ़ में कंडम हो चुकी कारों को मारुती कंपनी ने 85 लाख रुपए में 87 कारों को एक कबाड़िए को बेच दिया। जिसके बाद कबाड़िए ने नकली कागजात बनाकर उन कारों को करोड़ों रुपए में बेच दिया। रोपड़ रेंज के डीआई जी गुरप्रीत भुल्लर ने बताया कि 2019 में पटियाला में बाढ़ आई थी। एटलियर ऑटोमोबाइल राजपुरा रोड स्थित में 87 कारों में बाढ़ का पानी चला गया और सभी कारें कंपनी ने कंडम करार दे दी। जिसके बाद बाढ़ में कंडम हो चुकी कारें कबाड़िए ने सस्ते दाम पर मारुती कंपनी से खरीद ली। नकली कागजात के सहारे रीजनल ट्रांसपोर्ट अथॉरिटीज के पास रजिस्टर्ड भी करवा दिया। जब किसी तरह से मामला सामने आया तो जांच हुई और एक बड़ा फ्राॅड सामने आ गया। पुलिस ने 40 कारें बरामद कर और कबाड़िए समेत 4 साथियों के खिलाफ केस दर्ज कर 3 को गिरफ्तार कर लिया है। कबाड़िए की पहचान मानसा के पुनीत ट्रेडिंग कंपनी के मालिक पुनीत गोयल के रुप में हुई है। पुलिस ने बताया कि 3 अगस्त को फ्राॅड की इन्फॉर्मेशन मिली। जिसके बाद केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी। जांच में पाया गया कि कबाड़िए को कारें बेची तो इनके चैसी नंबर मिटा दिए थे। ताकि इनका आगे इस्तेमाल न हो। इसके बावजूद पुनीत गोयल ने साथियों के साथ मिलकर इन्हें पंजाब और दूसरे राज्यों के ट्रांसपोर्ट ऑफिस में रजिस्टर्ड करा लिया। जिसके बाद इन्हें करोड़ों में आगे बेच दिया गया। फतेहगढ़ साहिब की एसएसपी रवजोत कौर ने बताया कि सरहिंद पुलिस स्टेशन में 4 लोगों पर केस दर्ज किया गया है। इनमें पुनीत गोयल, उसका पिता राजपाल सिंह, कार डीलर और इस फ्रॉड का मास्टरमाइंड जसप्रीत सिंह उर्फ रिंकू के अलावा बठिंडा में आरटीए एजेंट नवीन कुमार भी शामिल है।

CATEGORIES
Share This

COMMENTS

Wordpress (0)