KMV. में बैंबू बेस्ड एंटरप्रेन्योरशिप एंड लाइवलीहुड डेवलपमेंट विषय पर ऑनलाइन वर्कशॉप का आयोजन - News 360 Broadcast
KMV. में बैंबू बेस्ड एंटरप्रेन्योरशिप एंड लाइवलीहुड डेवलपमेंट विषय पर ऑनलाइन वर्कशॉप का आयोजन

KMV. में बैंबू बेस्ड एंटरप्रेन्योरशिप एंड लाइवलीहुड डेवलपमेंट विषय पर ऑनलाइन वर्कशॉप का आयोजन

Listen to this article

न्यूज़ 360 ब्रॉडकास्ट (एजुकेशन न्यूज़ ,जालंधर ): KMV. Organized Online Workshop on Bamboo Based Entrepreneurship and Livelihood Development in:भारत की विरासत एवं ऑटोनॉमस संस्था, कन्या महा विद्यालय, जालंधर के पोस्टग्रेजुएट डिपार्टमेंट ऑफ़ बॉटनी के द्वारा इंस्टीट्यूशंस इनोवेशन काउंसिल के साथ मिलकर बैंबू बेस्ड एंटरप्रेन्योरशिप एंड लाइवलीहुड डेवलपमेंट विषय पर वर्कशॉप का आयोजन करवाया गया। डॉ. निर्मला चोंग्थम, प्रोफेसर, बॉटनी विभाग एवं कोऑर्डिनेटर, डी.एस.टी. सेंटर फॉर पॉलिसी रिसर्च, पंजाब यूनिवर्सिटी, चंडीगढ़ ने स्रोत वक्ता के रूप में शिरकत की। वर्ल्ड बैंबू एंबेसडर डॉ. निर्मला ने बांस की उद्यमिता एवं रोज़गार के विकास पर आधारित कई शानदार विचार सांझा किए। ऋग्वेद, आयुर्वेद एवं चिकित्सा प्रणाली में बांस के महत्व को दर्शाते हुए उन्होंने प्राचीन आयुर्वेदिक, इंडो-फारसी एवं तिब्बती दवाई प्रणाली के अनुसार विभिन्न बीमारियों के इलाज एवं बांस के उपयोग के बारे में विस्तार सहित बात की। बांस की शाखाओं को पौष्टिक सेहतमंद सब्ज़ी के रूप में बयान करते हुए इसको जंगली सब्जियों के राजा के रूप में बताया और महंगे परंपरागत पकवानों, फोर्टीफाइड फूड आइटम्स, पीने वाले पदार्थों, डेयरी उत्पादों, जैम,आचार आदि में बांस के पौष्टिक मूल्यों का भी वर्णन किया। इसके अलावा उन्होंने संसार भर में आर्किटेक्चर, बिल्डिंग बुनियादी ढांचे एवं फर्नीचर के लिए टिकाऊ निर्माण सामग्री के रूप में बांस के उपयोग के बारे में बात करने के साथ-साथ बांस पर आधारित फैब्रिक एवं कॉस्मेटिक उत्पादों की किस्मों के बारे में भी बताया और साथ ही इसके एंटी ऑक्सीडेंट, एंटीइन्फ्लेमेटरी,एंटीडायबिटिक, एंटी एलर्जीक, एंटीमाइक्रोबॉयल तथा खाद्य सुरक्षा गुणों के बारे में भी चर्चा की। बांस सेक्टर में उधमिता, आमदनी, रोज़गार आदिपैदा करने की अपार संभावनाओं के बारे में छात्राओं को समझाने के साथ-साथ अंत में उन्होंने छात्राओं के विभिन्न सवालों के जवाब भी बेहद सरल ढंग से दिए। उल्लेखनीय है कि इस वर्कशॉप में लगभग 60 छात्राओं ने पूरे जोश एवं उत्साह के साथ भाग लिया। विद्यालय प्रिंसिपल प्रो. अतिमा शर्मा द्विवेदी ने विषय की महत्वपूर्ण जानकारी छात्राओं को प्रदान करने के लिए डॉ. निर्मला के प्रति आभार व्यक्त किया और साथ ही इस सफल आयोजन के लिए समूह बॉटनी विभाग के द्वारा किए गए प्रयत्नों की भी प्रशंसा की।

CATEGORIES
Share This

COMMENTS

Wordpress (0)