KMV द्वारा आयोजित वार्षिक दीक्षांत समारोह में 800+ छात्राओं को प्रदान की गई डिग्रियां - News 360 Broadcast
KMV द्वारा आयोजित वार्षिक दीक्षांत समारोह में 800+ छात्राओं को प्रदान की गई डिग्रियां

KMV द्वारा आयोजित वार्षिक दीक्षांत समारोह में 800+ छात्राओं को प्रदान की गई डिग्रियां

Listen to this article

जालंधर: भारत की विरासत एवं आटोनॉमस संस्था, कन्या महाविद्यालय, जालंधर में वार्षिक दीक्षांत समारोह का आयोजन किया गया। प्रो. बी.एस. पोनमुदिराज, सलाहकार, नै• मुख्यतिथि के रूप में उपस्थित हुए और कन्या महाविद्यालय में शिक्षा सम्पन्न करने वाली छात्राओं को डिग्रीयों के साथ से अलंकृत किया।

पत्रकारिता और समाज सेवा के क्षेत्र में अपनी विशेष पहचान रखने वाले श्री चंद्रमोहन, अध्यक्ष, आर्य शिक्षा मंडल ने कार्यक्रम की अध्यक्षता की। इसके साथ ही के.एम.वी. मैनेजिंग कमेटी के वाइस प्रेसिडेंट श्रीमती सुषमा चावला, जर्नल सैकेरेटरी श्री आलोक सोंधी एवं मैंबर श्रीमती नीरू कपूर, श्रीमती सुशीला भगत और डॉ. प्रदीप भंडारी प्राचार्य, दोआबा कॉलेज इस अवसर पर विशेष रूप में सहभागी हुए।

विद्यालय प्राचार्या प्रो. अतिमा शर्मा द्विवेदी ने सभी आमंत्रित अतिथियों का पुष्पित अभिनंदन किया और ज्योति प्रज्जवलन और गायत्री मंत्रोच्चार के पश्चात् ज्ञान-विज्ञान की देवी माँ सरस्वती की आराधना में नृत्य प्रस्तुति के साथ कार्यक्रम का शुभारंभ हुआ। प्राचार्या महोदया ने मुख्यतिथि महोदय श्री पोनमुदिराज एवं सभी अतिथियों का अभिनंदन करते हुए विद्यालय द्वारा विभिन्न क्षेत्रों में हासिल की गई उपलब्धियों पर विस्तृत रिपोर्ट प्रस्तुत की और कहा कि विद्यालय प्रबंधक कमेटी के कुशलमार्गदर्शन में के.एम.वी. उच्च शिक्षा में नए आयामों की ओर निरंतर सफलतापूर्वक बढ़ रहा है।

उन्होंने कहा कि स्वायत्त स्टेटस, हैरीटेज स्टेटस, भारत सरकार के द्वारा स्टार कालेज, क्यूरी ग्रांट, नै• के द्वारा ए ग्रेड, कालज विद प्रोटेंशियल फॉर एक्सीलैंस का सम्मान एवं इंडिया टू डे, आऊटलुक मैगक्वीन तथा टाइम्स ऑफ इंडिया के द्वारा भारत के नम्बर 1 कालेज के सम्मान के साथ-साथ परीक्षा सुधार, वैल्यू एडिड कोर्स, जॉब रेडिनेस प्रोग्राम, विभिन्न कक्षाओं में चॉइस बेस्ड पाठयक्रमों की शुरुआत और बहुत से सार्थक अकादमिक प्रयास इस बात का प्रमाण है कि के.एम.वी. नई शिक्षा नीति के द्वारा दिए गए सुझावों की दिशा में पहले से ही प्रयत्नशील है।

प्राचार्या महोदया ने दीक्षांत समारोह में डिग्री प्राप्त करने वाली छात्राओं को उनके उज्जवल और प्रशस्त भविष्य के लिए शुभकामनाएं दी। श्री चंद्रमोहन ने अपने अध्यक्षीय संबोधन सभी विद्यार्थियों को मुबारकबाद एवं शुभकामनाएं देते हुए अपने प्रेरणाप्रद संबोधन में कहा कि विद्यालय में ग्रहण की गई शिक्षा आपको पंख भी देती है और ज्ञान की दूरदर्शिता भी। विद्यालय से प्राप्त की शिक्षा आपके उज्जवल भविष्य की नींव है, जिस पर अपने सपनों की इमारत की तामीर आपको अपने परिश्रम से करनी है। श्री चंद्रमोहन ने पंजाब में उच्च शिक्षा एवं अकादमिक जगत की विभिन्न चुनौतियों तथा युवा बच्चों में विदेश में पढऩे और वहीं बसने का रुझान और युवाओं के लिए पर्याप्त रोजगार के अवसरों की जमी जैसे महत्वपूर्ण विषयों की ओर सभी का ध्यान केद्रित किया जिससे राष्ट्रीय स्तर पर इन समस्याओं और उनके दूरगामी प्रभावों की आहट को पहुंचाया जा सके।

आगे बात करते हुए उन्होंने इन प्रतिकूल परिस्थितियों में भी के.एम.वी. द्वारा उच्च शिक्षा में निरंतर किए जा रहे महत्वपूर्ण प्रयासों के लिए प्रिंसीपल के.एम.वी. एवं सम्पूर्ण विद्यालय स्टाफ को मुबार•बाद दी। श्री पोनमुदिराज ने छात्राओं को संबोधित करते हुए कहा कि शिक्षा में बुद्धि, ज्ञान और रचनात्मकता के समन्वय से ही सन्तुलित व्यक्तित्व का विकास हो सकता है। शिक्षा में जहां एक ओर नए और आधुनिक विषयों को सम्मिलित किया जाना अपेक्षित है वहीं विद्यार्थियों में नैति•ता, जीवन मूल्यों, अनुशासन, विनम्रता, राष्ट्र और संस्कृति के लिए प्रेम और प्रतिबद्धता जैसी भावनाओं को प्रोत्साहित एवं पोषित करना आवश्यक है।

इसके साथ ही उन्होंने कन्या महाविद्यालय के द्वारा शिक्षा के स्तर को ऊंचा उठाने के लिए लिए जाते निरंतर एवं महत्वपूर्ण प्रयत्नों की प्रशंसा करते हुए डिग्री प्राप्त करने वाली सभी सौभाग्यशाली छात्राओं को मुबारकबाद दी। इस कार्यक्रम के दौरान 800 से भी अधिक छात्राओं को डिग्रीयां प्रदान की गई जिनमें 50 वह छात्राएं भी शामिल रहीं जिनके द्वारा टॉप 3 पोक्सिन्स हासिल करने पर उन्हें डिग्री के साथ-साथ मैडल भी प्रदान भी किए गए। इसके इलावा कॉलेज के जर्नलिज्म एंड मॉस कम्युनिकेशन विभाग द्वारा पर्यावरण संरक्षण विषय पर तैयार की गई डाक्यूमेंट्री शुद्धि भी रिलीज की गई।

कार्यक्रम के अंत में श्री आलोक सोंधी ने सभी अतिथियों, छात्राओं और उनके माता-पिता के प्रति इस विशेष अवसर पर उनकी उपस्थिति के लिए धन्यवाद ज्ञापित किया। कार्यक्रम के अंत में पंजाब की संस्कृति को प्रस्तुत करते लोक नाच ने सभी का मनमोह लिया। प्राचार्या जी ने इस सफल आयोजन के लिए डॉ. मधुमीत, डीन, स्टूडैंट वैलफेयर एवं अध्यक्षा अंग्रेजी विभाग एवं श्रीमती साधना टंडन के द्वारा किए गए प्रयत्नों की प्रशंसा की।

CATEGORIES
Share This

COMMENTS

Wordpress (0)