KMV के साथ मिलकर इंटरनेशनल हुमन राइट्स कमिशन की ओर से विश्व मानवाधिकार दिवस के अवसर अंतरराष्ट्रीय सेमिनार आयोजित - News 360 Broadcast
KMV के साथ मिलकर इंटरनेशनल हुमन राइट्स कमिशन की ओर से विश्व मानवाधिकार दिवस के अवसर अंतरराष्ट्रीय सेमिनार आयोजित

KMV के साथ मिलकर इंटरनेशनल हुमन राइट्स कमिशन की ओर से विश्व मानवाधिकार दिवस के अवसर अंतरराष्ट्रीय सेमिनार आयोजित

Listen to this article

न्यूज़ 360 ब्रॉडकास्ट (एजुकेशन न्यूज़ ,जालंधर ): International Seminar organized by International Human Rights Commission in collaboration with KMV on the occasion of World Human Rights Day : भारत की विरासत एवं ऑटोनॉमस संस्था, कन्या महा विद्यालय, जालंधर के द्वारा इंटरनेशनल हुमन राइट्स कमिशन के सहयोग से अंतरराष्ट्रीय सेमिनार का आयोजन किया गया । विश्व मानवाधिकार दिवस के उपलक्ष पर आयोजित हुए इस प्रोग्राम में आए हुए सभी अतिथियों का स्वागत करते हुए विद्यालय प्रिंसिपल प्रो. अतिमा शर्मा द्विवेदी ने अपने संबोधन में कहा कि के.एम.वी. के द्वारा समाज में मानवाधिकारों के बारे में जागरूकता पैदा करने के लिए समय-समय पर विभिन्न गतिविधियों का आयोजन किया जाता रहता है ताकि इन अधिकारों के कार्यान्वयन के माध्यम से ही देश और समाज को विकास के पथ पर और आगे लेकर जाया जा सके। आगे बात करती हुई उन्होंने बताया कि कन्या महाविद्यालय अपने स्थापना काल से ही मानवाधिकारों के लिए काम करता आ रहा है क्योंकि कन्या महा विद्यालय महिला शिक्षा और सशक्तिकरण के लिए काम करने वाला एकमात्र कॉलेज था। श्री अमनदीप मित्तल ( डायरेक्टर नॉर्थ ज़ोन, इंटरनेशनल हुमन राइट्स कमिशन) ने अपने संबोधन के दौरान इस बात पर ज़ोर दिया कि इन मानवाधिकारों को अपनाकर ही समाज को विकासशील बनाया जा सकता है। इसके साथ ही उन्होंने महिला सशक्तिकरण के क्षेत्र में अग्रणी रूप में योगदान देने के लिए के.एम.वी. के प्रयासों और पहलकदमीयों की सराहना करते हुए विशेष रूप से प्रिंसिपल प्रो. अतिमा शर्मा द्विवेदी के नेतृत्व की गुणवत्ता की सराहना भी की और कहा कि यह केवल उनके सक्षम मार्गदर्शन का ही परिणाम है कि के.एम.वी. हर दिन सफलता के नए आयाम स्थापित कर बाकियों के लिए एक मिसाल साबित हो रहा है। इसके साथ ही श्री अमृतपाल भराज एवं श्री राम छाबड़ा, कानूनी सलाहकार, इंटरनेशनल हुमन राइट्स कमिशन ने संबोधित होते हुए मानवता की सेवा को सबसे बड़ी सेवा बताया और साथ ही इंटरनेशनल हुमन राइट्स कमिशन के द्वारा सदा लोगों के कल्याण के लिए किए जाते विभिन्न कामों के प्रति भी प्रकाश डाला। इसके साथ ही उन्होंने श्री अमनदीप मित्तल को एक प्रेरणा पुंज के रूप में संबोधित करते हुए उनके द्वारा किए जाते विभिन्न सकारात्मक कामों को सभी के लिए प्रेरणादायक बताया। आगे बात करते हुए उन्होंने कहा कि उनकी संस्था के द्वारा समय-समय पर विभिन्न कॉलेजों एवं यूनिवर्सिटीओं में जागरूकता भरपूर सेमिनार आयोजित किए जाते रहते हैं ताकि युवा वर्ग को उनके अधिकारों एवं कर्तव्यों के प्रति बताया जा सके। मानवाधिकारों के उल्लंघन के संबंध में वैश्विक चिंता के बारे में विस्तार से बताया। उन्होंने यह भी बताया कि मानवाधिकारों की सुरक्षा के लिए राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर विभिन्न मापदंड भी बनाए गए हैं परंतु फिर भी विश्व के विभिन्न हिस्सों में मानवाधिकारों का उल्लंघन हो रहा है। इसके अलावा इस अवसर पर श्री तीक्ष्ण समरोल, डिस्ट्रिक्ट लीगल सर्विस अथॉरिटी ने संबोधित होते हुए हमारे देश के प्रत्येक नागरिक को कानूनी सहायता प्रदान करने के लिए सरकार द्वारा शुरू की गई विभिन्न योजनाओं और पहलकदमीयों पर प्रकाश डाला। इस मौके पर अन्य गणमान्य अतिथियों के साथ एडवोकेट मोहम्मद रफी, एडवोकेट गोमती भगत, एडवोकेट लवप्रीत, एडवोकेट अमृतपाल भी मौजूद थे। इस अवसर पर छात्राओं मनलीन कौर, श्रुति सिंह, जोतबिंदर कौर, उर्शिका बहल, नंदिता पठानिया, मुस्कान शर्मा और विदिशा को भी विभिन्न मुद्दों से संबंधित समाज में जागरूकता फैलाने में उनके शानदार योगदान के लिए सम्मानित किया गया। प्राचार्या प्रो. अतिमा शर्मा द्विवेदी ने सेमिनार के सफल आयोजन के लिए डॉ. मधुमीत, डीन, स्टूडेंट वेलफेयर और श्रीमती आशिमा साहनी, अध्यक्षा, पॉलिटिकल साइंस विभाग और पूरी टीम के प्रयासों की सराहना की।

CATEGORIES
Share This

COMMENTS

Wordpress (0)