आई.के.जी पी.टी.यू का यू.एस.ए एवं कनाडा के उच्च शिक्षण संस्थानों के साथ करार - News 360 Broadcast
आई.के.जी पी.टी.यू का यू.एस.ए एवं कनाडा के उच्च शिक्षण संस्थानों के साथ करार

आई.के.जी पी.टी.यू का यू.एस.ए एवं कनाडा के उच्च शिक्षण संस्थानों के साथ करार

Listen to this article

जालंधर: भारतीय स्टूडेंट्स को बेहतर विदेशी शिक्षा के अवसर दिलाने को आई.के.गुजराल पंजाब टेक्निकल यूनिवर्सिटी (आई.के.जी पी.टी.यू) ने यूनाइटेड स्टेट्स ऑफ अमेरिका (यू.एस.ए) एवं कनाडा के नामवर शिक्षण संस्थानों से दो अलग-अलग करार पर हस्ताक्षर किये हैं! करार से जुड़े शिक्षण संस्थानों में कनाडा का वैंकोवर प्रीमियर कॉलेज ऑफ़ आर्ट्स एंड साइंस, बिज़नेस एंड मैनजमेंट, होटल मैनेजमेंट एवं अमेरिका की इंटरनेशनल अमेरिकन यूनिवर्सिटी शामिल हैं!

यूनिवर्सिटी के प्लानिंग एवं एक्सटर्नल प्लानिंग (पी. एंड ई.पी) विभाग की तरफ से स्वदेशी फीस पर विदेशी शिक्षा के अवसर के लक्ष्य तले फॉरेन यूनिवर्सिटीज से किये जा रहे करार की आई.के.जी पी.टी.यू के कुलपति सीनियर आई.ए.एस अधिकारी राहुल भंडारी, जो कि प्रदेश के तकनीकी शिक्षा एवं इंडस्ट्रियल ट्रेनिंग विभाग के प्रमुख सचिव भी हैं, ने सराहना की है!

पी. एंड ई.पी विभाग के डीन प्रो (डॉ.) यादविंदर सिंह बराड़ ने बताया कि इंटरनेशनल अमेरिकन यूनिवर्सिटी (आई.ए.यू) से हुए करार के तहत आई.के.जी पी.टी.यू के स्टूडेंट्स को दोनों संस्थानों के बीच क्रेडिट ट्रांसफर प्रोग्राम, प्रोग्रेशन एंड एक्सचेंज ऑफ़ स्टूडेंट्स, एक्सचेंज ऑफ़ टीचिंग, रिसर्च एंड एडमिनिस्ट्रेटिव स्टाफ एवं मिलकर अकादमिक प्रोग्राम चलाने एवं शोध कार्यों को बढ़ावा देने के अवसर मिलेंगे! इसके साथ ही आई.के.जी पी.टी.यू के बी.बी.ए कोर्स में एकाउंटिंग, इकोनॉमिक्स, फाइनेंस, हॉस्पिटल ट्रेवल टूरिज्म एवं मार्केटिंग में दाखिला लेने वाले स्टूडेंट्स इसका लाभ ले पाएंगे! इसके साथ ही आई.के.जी पी.टी.यू के एम.बी.ए कोर्स के स्टूडेंट्स भी इसका लाभ ले पाएंगे! आई.ए.यू एग्रीकल्चर, हॉस्पिटैलिटी, इनफार्मेशन सिस्टम, ह्यूमन रिसोर्स मैनेजमेंट, फाइनेंस सहित विभिन्न विषयों में एम.बी.ए की पढ़ाई करवाती है!

विभाग के डायरेक्टर डॉ. एकओंकार सिंह जोहल ने बताया कि वैंकोवर प्रीमियर कॉलेज (वी.पी.सी) में आई.के.जी पी.टी.यू के कोर्सेज खासकर बी.बी.ए के लिए क्रेडिट ट्रांसफर सुविधा शामिल है! इसके तहत स्टूडेंट 6 माह भारत में पढ़ने के बाद 6 माह उसी देश में रहकर अपनी फीस कमा सकते हैं! इसमें खास बात है कि स्टूडेंट को लगातार 6 माह काम करने का भी अवसर मिलता है अन्यथा दूसरे कोर्सेस में यह अवसर सप्ताह के कुछ घंटों का ही मिलता है! इसके इलावा भी बहुत से अवसर इन एम.ओ.यू के तहत दिए जायेंगे!

CATEGORIES
Share This

COMMENTS

Wordpress (0)