अगर आपको भी ज्यादा देर बैठने पर लगता है कि आपके पैरों को चीटियां काट रही हैं या पैरों पर चीटियां चल रही हैं तो इसका मतलब के शरीर में इस विटामिन की कमी हो सकती है - News 360 Broadcast
अगर आपको भी ज्यादा देर बैठने पर लगता है कि आपके पैरों को चीटियां काट रही हैं या पैरों पर चीटियां चल रही हैं तो इसका मतलब के शरीर में इस विटामिन की कमी हो सकती है

अगर आपको भी ज्यादा देर बैठने पर लगता है कि आपके पैरों को चीटियां काट रही हैं या पैरों पर चीटियां चल रही हैं तो इसका मतलब के शरीर में इस विटामिन की कमी हो सकती है

Listen to this article

Hand and Foot Sensation Causes and Cure:

ज्यादा देर बैठने से कई बार आपको पैरों में ऐसा महसूस होता है,कि जैसे पैरों पर चीटियां चल रही है। क्या आप जानते हैं कि ऐसा क्यों होता है या इसका क्या कारण हो सकता है। आओ जानते हैं कि ऐसा क्यों महसूस होता है, और इसे कैसे दूर किया जा सकता ह।

जब भी हाथ – पैरों में चीटियों का चलने जैसा महसूस होना यानी आपके शरीर में विटामिन ई की कमी है। विटामिन ई एंटीऑक्सीडेंट्स है। जो फ्री रेडिकल्स से डैमेज होने वाली सेल्स को प्रोटेक्ट करता है। यहां पर हम जिन फ्री रेडिकल्स की बात कर रहे हैं , वह वातावरण में धुंए, सूरज की किरणों और हवा में फैली गंदगी के रूप में भी हो सकते है। अगर आप विटामिन ई की कमी को खत्म करना चाहते हैं, तो इन चीजों को अपने रोजमर्रा की डाइट का हिस्सा बना लें।

1 ) आप बदाम को अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं , क्योंकि बदाम में काफी मात्रा में विटामिन पाया जाता है। यह आपकी सेहत और दिमाग को तरोताजा रखने का काम भी करता है।

2 ) मूंगफली को भी स्नैक्स के तौर पर लिया जा सकता है। इसमें भी विटामिन पाया जाता है।

3 ) सूरजमुखी के तेल को भी आप इस्तेमाल कर सकते हैं। सूरजमुखी के तेल में आप अपने रोजमर्रा की सब्जियों को इसमें पका कर खा सकते हैं। आप विटामिन ई के सप्लीमेंट का भी इस्तेमाल कर सकते है।

इसके अलावा यह भी कारण हो सकता है

अगर आप शुगर के मरीज हैं , तो शुगर वाले मरीजों में भी यह समस्या देखने को मिलती है।

अगर आपके पैर या हाथ किसी चीज से टकरा जाएं तो ऐसा महसूस होता है कि पैरों या हाथों पर चीटियां चल रही हैं।

विटामिन डी की कमी से भी ऐसा ही महसूस होता है इसका मुख्य कारण सूरज की किरने हैं।

न्यूज़ 360 ब्रॉडकास्ट ऐसी किसी भी जानकारी की जिम्मेदारी और दावा नहीं करता। पाठक किसी भी बस्तु का इस्तेमाल करने से पहले किसी विशेषज्ञ चिकित्सक की सलाह जरूर लें।

CATEGORIES
Share This

COMMENTS

Wordpress (0)