सैनिकों के परिजनों को पंजाब सरकार ने दिया सम्मान लेकिन... - News 360 Broadcast
सैनिकों के परिजनों को पंजाब सरकार ने दिया सम्मान लेकिन…

सैनिकों के परिजनों को पंजाब सरकार ने दिया सम्मान लेकिन…

Listen to this article
सतपाल शर्मा,एडिटर: मैं आज के संपादकीय लेख में पंजाब सरकार की ओर से किए गए महत्वपूर्ण फैसले की चर्चा कर रहा हूं। पूर्व सैनिकों, जंगी विधवाओं, दिव्यांग पूर्व सैनिकों और उनके आश्रितों की सेवा और पुनर्वास के उद्देश्य से मुख्यमंत्री भगवंत मान के नेतृत्व वाली पंजाब सरकार ने पूर्व सैनिकों की भलाई की तरफ एक और कदम उठाते हुये एक नया ऑनलाइन पोर्टल शुरू किया है जिससे वह घर बैठे ही राज्य की अलग-अलग किस्म की सेवाओं का लाभ ले सकें।  सरकार की परियोजना के संदर्भ में मेरे कुछ सुझाव है।
सैनिकों के परिवारों के लिए नई सेवा कार्यालय ऐलान रक्षा सेवा कल्याण मंत्री फौजा सिंह सरारी ने चंडीगढ़ में रक्षा कर्मियों की सुविधा के लिए नया वैब पोर्टल ’ई-सेनानी’ लांच करने के मौके पर किया। मैं 360 मीडिया के पाठकों को बताना चाहता हूं कि रक्षा सेवाओं की श्रेणियों के लाभार्थी शहीदों और दिव्यांग सैनिकों के नजदीकी रिश्तेदारों को एक्स-ग्रेशिया ग्रांटें, गैलेंटरी और डिस्टिंगुइशड अवार्ड प्राप्त करने वालों (सिवलियनें) को नकद पुरुस्कारों की ग्रांट और लीनल वंशज या पूर्व सैनिकों को नौकरी के लिए सर्टिफिकेट जारी करने सम्बन्धी सेवाएं प्राप्त कर सकते हैं।  वैब पोर्टल www.dsw.punjab.gov.in
पर एक विशेष ’ई-सेनानी’ विंडो उपलब्ध करवाई गई है जहाँ पूर्व सैनिक और विधवाएं पहचान पत्र प्राप्त करने के लिए स्वयं को ऑनलाइन रजिस्टर कर सकती हैं।  पंजाब सरकार को मेरा सुझाव भारत सरकार की अग्निवीर योजना के संबंध में हैं। सेना में अग्निवीर योजना के लिए भर्ती प्रक्रिया तेजी से आरंभ की गई है। पंजाब सरकार को शैक्षणिक प्रक्रिया में सेना में भर्ती से पहले विद्यार्थियों को फिटनेस एवं सेना में भर्ती के नियमों की जानकारी प्रदान करने के लिए कदम उठाने चाहिए। पंजाब के ग्रामीण इलाकों में पूर्व सैनिक इस कार्य में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं।
CATEGORIES
Share This

COMMENTS

Wordpress (0)