Kanya Maha Vidyalaya में पुलिस कमिश्नरेट के सहयोग के साथ साइबर क्राइम के बारे में जागरूकता पर सेमीनार का आयोजन
Kanya Maha Vidyalaya में पुलिस कमिश्नरेट के सहयोग के साथ साइबर क्राइम के बारे में जागरूकता पर सेमीनार का आयोजन

Kanya Maha Vidyalaya में पुलिस कमिश्नरेट के सहयोग के साथ साइबर क्राइम के बारे में जागरूकता पर सेमीनार का आयोजन

Listen to this article
  • Kanya Maha Vidyalaya के विद्यार्थियों ने लिया बढ़-चढ़कर हिस्सा

जालंधर: भारत की विरासत एवं ऑटोनॉमस संस्था, Kanya Maha Vidyalaya, जालंधर के स्टूडेंट वेलफेयर विभाग द्वारा पुलिस कमिश्नरेट, जालंधर के साथ मिलकर साइबर क्राइम के संबंध में जागरूकता पैदा करने के लिए विद्यार्थियों के लिए एक सेमीनार का आयोजन करवाया गया। सेमीनार में पुलिस कमिश्नरेट की तरफ से श्री गुरबिंदरजीत सिंह एवं मैडम संदीप बिंद्रा ने शिरकत की। विद्यार्थियों ने सेमीनार में बढ़-चढ़कर भाग लेते हुए संबंधित विषय पर आधारित अपनी दुविधाओं एवं शंकाओं के बारे में खुलकर वक्ताओं के साथ बातचीत क। छात्राओं को साइबरस्पेस की बदलती गतिशीलता के बारे में अवगत करवाने के साथ – साथ, उन्हें साइबर सुरक्षा के महत्व के बारे में बताया गया। घरों में इसको किस प्रकार यकीनी बनाया जा सकता है इस बारे में भी बात की गई। इसके साथ ही स्रोत वक्ताओं के द्वारा छात्राओं को साइबर हैकर्स की ओर से चुनौतियां एवं खतरों के साथ-साथ साइबर अपराधों को रोकने के समाधानों के बारे में भी विस्तार सहित बताया गया और साथ ही साइबर सुरक्षा को यकीनन बनाते साइबर कानूनों एवं इनमें लाई गई नवीनता से भी सभी को अवगत करवाने के साथ-साथ इनकी विशेषताओं एवं तकनीकों के संबंध में भी प्रकाश डाला गया।

 

श्री गुरबिंदरजीत ने अपने संबोधन के दौरान बताया कि साइबर क्राइम को खत्म करने के लिए जहाँ नवीनतम साइबर टूलज़ का उपयोग कर हर संभव यत्न किए जा रहे हैं, वहीं दूसरी तरफ साइबर अपराधों के बारे में लोगों की व्यापक जागरूकता के लिए प्रोग्रामों का आयोजन भी किया जा रहा है ताकि लोगों में विश्वास पैदा किया जा सके और पीड़ित व्यक्तियों की शिकायतों का समय रहते निपटारा किया जा सके। विद्यालय की प्रिंसिपल प्रो. अतिमा शर्मा द्विवेदी ने विषय से संबंधित महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान करने के लिए स्रोत वक्ताओं के प्रति आभार व्यक्त करते हुए कहा कि साइबर क्राइम के बारे में जागरूकता का प्रसार मौजूदा समय की जरूरत है ,ताकि किसी की भी निजी जिंदगी के ऊपर कोई भी खतरा पैदा ना हो सक। अंत में उन्होंने इस सफल आयोजन के लिए डॉ. मधुमीत, डीन, स्टूडेंट वेलफेयर के द्वारा किए गए प्रयत्नों की भी प्रशंसा की।

 

seminar-on-awareness-about-cyber-crime-in-kanya-maha-vidyalaya

CATEGORIES
Share This

COMMENTS

Wordpress (0)