विजीलैंस द्वारा मोटर व्हीकल इंस्पेक्टर का भगौड़ा प्राईवेट एजेंट गिरफ़्तार - News 360 Broadcast

विजीलैंस द्वारा मोटर व्हीकल इंस्पेक्टर का भगौड़ा प्राईवेट एजेंट गिरफ़्तार

Listen to this article

न्यूज़ 360 ब्रॉडकास्ट (संपादक ): Absconding private agent of motor vehicle inspector arrested by vigilance :विजीलैंस ब्यूरो पंजाब द्वारा पिछले दिनों मोटर व्हीकल इंस्पेक्टर, (एम.वी.आई.) जालंधर कार्यालय में की गई औचक चैकिंग के दौरान वहाँ के एम.वी.आई. नरेश कलेर द्वारा प्राईवेट एजेंटों के साथ मिलीभुगत कर बड़े स्तर पर किए जा रहे संगठित भ्रष्टचार का पर्दाफाश करते हुए मुकदमा दर्ज किया गया था। इस मामले में 7 नामज़द दोषी फऱार चल रहे थे, जिनमें से दोषी सुरजीत सिंह, प्राईवेट एजेंट को गिरफ़्तार किया गया है। यह एजेंट उक्त एम.वी.आई., जालंधर के साथ मिलीभुगत कर कमर्शियल और प्राईवेट गाडिय़ों को बिना इंस्पैक्शन करवाए मोटी रकम लेकर और रिश्वत का बड़ा हिस्सा नरेश कलेर एम.वी.आई. को देकर गाडिय़ों का फिटनेस सर्टिफिकेट हासिल कर सरकार को चूना लगा रहे थे। इस सम्बन्धी जानकारी देते हुए विजीलैंस ब्यूरो के प्रवक्ता ने बताया कि नरेश कलेर एम.वी.आई. द्वारा अलग-अलग किस्म की गाडिय़ों की पासिंग के बिना इंस्पैक्शन किए ही रिश्वत लेकर फिटनेस सर्टिफिकेट जारी कर दिया जाता था। इस सम्बन्ध में विजीलैंस ब्यूरो, जालंधर द्वारा पुख़्ता सबूतों के आधार पर मुकदमा नंबर 14 तारीख़ 23.08.2022 को भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम की धारा 7, 7ए और आईपसी की धारा 420, 120-बी के तहत थाना विजीलैंस ब्यूरो, रेंज जालंधर में दर्ज कर उक्त दोषी नरेश कुमार कलेर, रामपाल उर्फ राधे प्राईवेट एजेंट, मोहन लाल उर्फ कालू (प्राईवेट एजेंट) और परमजीत सिंह बेदी को पहले ही गिरफ़्तार किया जा चुका है। बाकी फऱार दोषियों को गिरफ़्तार करने के लिए विजीलैंस ब्यूरो द्वारा कार्यवाही की जा रही है।

CATEGORIES
Share This

COMMENTS

Wordpress (0)