Kmv  में 28 न्यू एज ऐड-ऑन सर्टिफिकेट कोर्सेज का नई शिक्षा नीति के अनुसार आगाज़ - News 360 Broadcast
KMV  में 28 न्यू एज ऐड-ऑन सर्टिफिकेट कोर्सेज का नई शिक्षा नीति के अनुसार आगाज़

KMV  में 28 न्यू एज ऐड-ऑन सर्टिफिकेट कोर्सेज का नई शिक्षा नीति के अनुसार आगाज़

Listen to this article

KMV की छात्राओं के साथ-साथ बाहर से भी छात्राएं दिखा रहीं है विशेष दिलचस्पी

सभी कोर्सेज सेक्टर स्किल काउंसिल, भारत सरकार के अनुकूल

एजुकेशन न्यूज़ (न्यूज़ 360 ब्रॉडकास्ट) : 28 new age add-on certificate courses started as per new education policy   भारत की विरासत एवं ऑटोनॉमस संस्था, कन्या महा विद्यालय, जालंधर के द्वारा हमेशा छात्राओं के ज्ञान एवं रोज़गार कौशल को बढ़ाने के लिए विभिन्न सृजनात्मक प्रोग्रामों के आयोजन में पहल कदमी की जाती रहती है। कौशल विकास में एक अग्रणी संस्था होने के नाते कन्या महा विद्यालय ने कई नए आयाम स्थापित किए हैं। एक और नई पहलकदमी करते हुए के.एम.वी. के द्वारा 28 न्यू एज ऐड-ऑन सर्टिफिकेट कोर्स शुरू किए गए हैं। जिनको विद्यार्थियों से भरपूर सराहना प्राप्त हो रही है, छात्राएं अपनी नियमित डिग्री के साथ इन कोर्सेज का चयन कर सकती हैं क्योंकि यह पाठ्यक्रम उनकी शिक्षा को अधिक सकारात्मक और प्रभावी बनाने के अलावा उनके कौशल को बढ़ाने की क्षमता भी रखते हैं। यह सभी कौशल पर आधारित व्यवसायिक कोर्स इस भारत की नई शिक्षा नीति के अनुरूप हैं। इसमें से अधिकतर कोर्स कौशल पर आधारित और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सेक्टर स्किल काउंसिल (एन.एस.डी.सी.), भारत सरकार के अनुरूप एवं मान्यता प्राप्त है। इन कोर्सेज में दाखिले के लिए कम से कम योग्यता 10+2 है और अपनी नियमित डिग्री करने वाले विद्यार्थियों के द्वारा इनको चुना जा सकता है , अथवा वह केवल सर्टिफिकेट कोर्स भी कर सकते हैं। बेहद कम फीस में यह कोर्सेज कॉलेज के बाहर की छात्राओं के लिए भी खुले हैं जो उन्हें स्किल् ट्रेनिंग, रोज़गार एवं प्रमाण में मदद करेंगे। इस बारे में और अधिक जानकारी प्रदान करते हुए विद्यालय प्रिंसिपल प्रो. अतिमा शर्मा द्विवेदी ने बताया कि कन्या महाविद्यालय में छात्राओं की तकनीकी और एकेडमिक योग्यता में सुधार लाने के उद्देश्य के साथ नए कौशल विकास कोर्सेज की एक विस्तृत श्रृंखला है। इन कोर्सेज में रिटेल सेल्स एसोसिएट, डॉमेस्टिक डाटा एंट्री ऑपरेटर, ग्राफिक डिज़ाइनर, असिस्टेंट फैशन डिज़ाइनर, सेल्फ एंप्लॉयड टेलर, मेकअप आर्टिस्ट, कमर्शियल आर्ट, बैंकिंग एंड मेंटल एबिलिटी, नर्सरी डेवलपमेंट एंड मैनेजमेंट, हेल्थ फिटनेस, केमिस्ट्री फॉर एंटरप्रेन्योरशिप एंड प्रोडक्शन, साइकोथेरेपी, नेटिव एप डेवलपमेंट यूजिंग एंड्राइड, डाटा मैनेजमेंट एंड केयर, डिजिटल बैंकिंग, क्वानटेटिव एप्टीट्यूड एंड रीज़निंग, वैदिक मैथमेटिक्स आदि शुमार हैं। इन कोर्सेज को कौशल के उच्च स्टैंडर्ड्स को प्रदर्शित करने के लिए डिज़ाइन किया गया है ताकि युवाओं को राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर अपनी प्रतिभा को प्रदर्शित करने के लिए एक विशेष मंच प्रदान किया जा सके। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि इन पहलकदमियों से सकारात्मक बदलाव आएंगे क्योंकि यह कोर्सेज छात्राओं को रोज़गार के लिए तैयार करेंगे और शानदार प्लेस प्लेसमेंट के लिए उनके कौशल को अपग्रेड करेंगे।

CATEGORIES
Share This

COMMENTS

Wordpress (0)