- News 360 Broadcast

Listen to this article

जालंधर: जैसे कि हम सभी जानते हैं गैस्टरोइंटेस्टाईनल कैंसरों में पेट और आंत के अलग -अलग कैंसर शामिल होते हैं जैसे कि गैस्टिक कैंसर, ऐसोफेगल कैंसर, कोलोरैकटल कैंसर, हैपेटोबिलरी कैंसर और पैनक्रियाटिक कैंसर आदि। यह सभी कैंसर जानलेवा होते हैं भारत और दुनिया भर में यह कैंसर एक बढ़ता बोझ (घटना और मौत दर दोनों) हैं। भारत में हमारी सामाजिक -आर्थिक असमानता और सीमित सेहत -संभाल स्रोतों के देखते हुए कैंसर का इलाज चुणौतीपूरन बना हुआ है।

“जी. आई कैंसर अपडेट 2022 पटेल हस्पताल की सालाना पहलकदमी का एक हिस्सा है। पटेल हस्पताल द्वारा मरीज़ों को कैंसर से बचाने के लिए कैंसर सम्बन्धित जागरूकता सैमीनार और कान्फ़्रेंस का आयोजन समय समय पर किया जाता है, जिससे कि लोगों को कैंसर के कारणों और उनसे कैसे बचाव किया जा सकता है, उसके बारे में जानकारी प्राप्त हो सके। इस कान्फ़्रेंस में भारत के अलग अलग क्षेत्रों में से डाक्टर शामल हुए। इनमें प्रसिद्ध डाक्टर ओसवाल हस्पताल, लुधियाना से डा. हरप्रीत सिंह, आई.वी.वायी हस्पताल मुहाली से डा. जतीन सरीन, डी.ऐम.सी लुधियाना से डा. कुनाल जैन, जेपी हस्पताल नोइडा से डा. पुनीत सिंगला, मैक्स हस्पताल मोहाली से डा. मनमोहन सिंह बेदी, अमृतसर से डा. मोहित शर्मा पी.जी.आई चण्डीगढ़ से डा. सिखा गोयल, डा. गगन सैनी मैक्स हस्पताल दिल्ली आदि शामिल थे।

यह कान्फ़्रेंस पटेल मल्टी -सुपरसपैशलिटी हस्पताल द्वारा इंडियन मैडीकल ऐसोसीएशन (आई.ऐम.ए) और ऐसोसीएशन आफ सर्जन आफ इंडिया (ए.ऐस.आई) के नेतृत्व में, 1 मई 2022 को होटल फॉर्च्यून, जालंधर में आयोजित की गई। इस कान्फ़्रेंस में 200 से अधिक डाक्टरों ने भाग लिया, और यह ग्लोबल मापदण्डों की एक सचमुच बहु -अनुशासनी मीटिंग थी। कान्फ़्रेंस का उद्घाटन डा. अलोक लालवानी, प्रधान (इंडियन मैडीकल ऐसोसीएशन) – जालंधर चैप्टर, डा. चंजीव सिंह, सचिव (ऐसोसीएशन आफ सर्जन आफ इंडिया)- पंजाब चैप्टर, डा. कमल गुप्ता, प्रधान ऐसोसीएशन आफ सर्जन आफ इंडिया – जालंधर चैप्टर, डॉ शमित चोपड़ा, डायरैक्टर, पटेल हस्पताल और डा. जैस्मिन कौर, मैंबर, पंजाब मैडीकल कौंसिल ने किया।

पटेल हस्पताल भारत के उत्तरी पश्चिमी क्षेत्र के मैडीकल क्षेत्र में अग्रणी रहा है। नई प्रौद्योगिकी को लेकर आने के लिए और मैडीकल सहूलतें प्रदान करने में पटेल हस्पताल का हमेशा सबसे पहला स्थान रहा है। मरीज़ की देखभाल और तंदरुस्ती पटेल हस्पताल का मुख्य मकसद रहा है। पटेल हस्पताल 45 सालों से अधिक समुदाय की सेवा कर रहा है और 2005 में ओनकोलोजी डिपार्टमैंट की शुरूआत से ले कर 22000 कैंसर के मरीज़ों और 4000 से अधिक पेट के कैंसर के मरीजों का इलाज किया गया है। पटेल हस्पताल कैंसर के मरीज़ों को आर्थिक और सामाजिक सहायता देने के साथ बढ़िया नतीजे देने के लिए प्रतिबद्ध है।

CATEGORIES
Share This

COMMENTS

Wordpress (0)