आतंकी संगठन के निशाने पर पंजाब के CM भगवंत मान, रेलवे स्टेशनों सहित इन 21 स्थानों पर हमले की दी धमकी - News 360 Broadcast
आतंकी संगठन के निशाने पर पंजाब के CM भगवंत मान, रेलवे स्टेशनों सहित इन 21 स्थानों पर हमले की दी धमकी

आतंकी संगठन के निशाने पर पंजाब के CM भगवंत मान, रेलवे स्टेशनों सहित इन 21 स्थानों पर हमले की दी धमकी

Listen to this article

जालंधर:  पाकिस्तान पोषित आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने पंजाब को दहलाने की धमकी दी है। उसके निशाने पर पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान सहित अकाली दल के नेता, जालंधर स्थित श्री देवी तलाब मंदिर, पटियाला का काल माता मंदिर सहित 21 स्थान हैं। जैश-ए-मोहम्मद के जम्मू कश्मीर एरिया कमांडर सलीम अंसारी ने सुल्तानपुर लोधी रेलवे स्टेशन के स्टेशन मास्टर राजबीर सिंह को धमकी पत्र भेज कर अमृतसर, तरनतारन, जालंधर के रेलवे स्टेशनों को भी उड़ाने धमकी दी गई है।

 

पत्र में लिखा है कि हे खुदा मुझे माफ कर, हम अपने जेहादियों की मौत का बदला जरूर लेंगे। आगे लिखा है कि ठीक 21 मई को अमृतसर, तरनतारन, फगवाड़ा, सुल्तानपुर लोधी स्टेशनों को बम से उडाया जाएगा। 23 मई को जालंधर के श्री देवी तलाब एवं पटियाला के काली माता मंदिर एवं अन्य कई धार्मिक स्थानों को बम से से उड़ाने की धमकी दी गई है। धमकी पत्र में श्री भगवंत मान के अलावा अकाली दल के कुछ नुमाइदों के नाम भी शामिल हैं।

Hope

बताया जा रहा है कि धमकी मिलने के बाद थाना सुल्तानपुर लोधी के एसएचओ बिक्रमजीत सिंह पुलिस टीम समेत मौके पर पहुंच कर मामले की जांच कर रहे हैं। स्टेशन मास्टर राजबीर सिंह ने कहा कि उन्होंने तत्काल जीआरपी को इसकी सूचना दी। फिलहाल, हिंदी में लिखे इस धमकी पत्र को जांच के लिए जम्मू से भेजा गया है। पत्र के अनुसार पंजाब को दहलाने की बड़ी साजिश रची गई है।

 

राजबीर ने बताया कि यह पत्र डाकिया टिकट क्लर्क को दे गया था। वह समय एक गाड़ी के गुजरने का था। तब उन्होंने वह पत्र उसी तरह रख दिया। सोचा के गाड़ी रवाना होने के बाद देखेंगे। इसके बाद उन्होंने इसे पढ़ा तो दंग रह गए। साधारण कागज पर हिंदी में सीएम भगवंत मान सहित पंजाब के 21 स्थानों को निशाना बनाने के बारे में लिखा है। उन्होंने रेलवे के उच्चाधिकारियों को धमकी पत्र के संबंध में अवगत करवा दिया है। इस पत्र की लिखावट देखकर इसे किसी की शरारत समझा जा सकता है।

CATEGORIES
TAGS
Share This

COMMENTS

Wordpress (0)