के.एम.वी. में इंडो-हंगोरियन कक्षाओं की अंतरराष्ट्रीय सीरीज पूरे जोरों पर

के.एम.वी. में इंडो-हंगोरियन कक्षाओं की अंतरराष्ट्रीय सीरीज पूरे जोरों पर

एजुकेशन डेस्क: कन्या महाविद्यालय, जालंधर द्वारा कोरोना महामारी से उत्पन्न हुई चुनौतीपूर्वक परिस्थितियों में भी गुणात्मक शिक्षा छात्राओं को प्रदान करने में निरंतर प्रयत्नशील रहते हुए सफलता हासिल की गई है। के.एम.वी. के द्वारा अंतर्राष्ट्रीय सीरीज के अंतर्गत इंडो-हंगेरियन कक्षाओं की शुरूआत की गई। महामारी काल के दौरान छात्राओं को उत्तम शिक्षा प्रदान करने के प्रत्येक सकारात्मक अवसर
को अपनाने वाले के.एम.वी. के द्वारा साइकॉलजी की छात्राओं के लिए ऑनलाइन अंतर्राष्ट्रीय कक्षाओं कि निर्विघ्न शुरूआत की गई जिनके अंतर्गत की साइकोलॉजी छात्राओं को डॉ. रॉबर्ट अर्बन, प्रोफेसर, ईटोवॉस लोरेंड यूनिवर्सिटी, हंगरी द्वारा हेल्थ साइकॉलजी की शिक्षा प्रदान की जा रही है। इन कक्षाओं की उत्पति के.एम.वी. तथा ईटोवास लोरेंड यूनिवर्सिटी में विद्यालय प्रिंसीपल प्रो. अतिमा शर्मा द्विवेदी गीईटोवास लोरेंड यूनिवर्सिटी, हंगरी में फेरी के दौरान हुए मेमोरेंडम ऑफ अंडरस्टैंडिंग के कारण ही संभव हो सकी है। प्रत्येक हफ्ते डॉ. रॉबर्ट के द्वारा के.एम.वी. की छात्राओं के लिए इंटरएक्टिव सेशंस का आयोजन किया जाता है जिनमें उनके द्वारा छात्राओं को भेजे गए हेल्थ साइकोलॉजी पर आधारित वीडियो, प्रेजेंटेशन तथा अध्ययन सामग्री पर विचार चर्चा करने के साथ-साथ छात्राओं की शंकाओं को भी दूर किया जाता है।
प्रिंसीपल प्रो. अतिमा शर्मा द्विवेदी ने बताया कि इस एक्सचेंज प्रोग्राम को शानदार सफलता तथा छात्राओं से भरपूर सराहना हासिल हो चुकी है क्योंकि इस प्रयत्न से सचमुच ही उनको अंतर्राष्ट्रीय स्तर का एक्सपोजर प्राप्त हुआ है। आगे बात करते हुए उन्होंने कहा कि समय-समय पर विश्व भर की प्रसिद्ध यूनिवर्सिटीओं से अंतर्राष्ट्रीय फैकल्टी द्वारा एक्सचेंज प्रोग्राम के अंतर्गत के.एम.वी. में छात्राओं की कक्षाएं आयोजित करने के साथ-साथ उनको विश्व स्तरीय ज्ञान भी प्रदान किया जाता है।

CATEGORIES
Share This

COMMENTS

Wordpress (0)