सरकार और किसान संगठनों के बीच 10वे दौर की बात खत्म।

नेशनल डेस्क : आज फिर एक बार बातचीत से कोई नतीजा नहीं निकला। सरकार ने किसान संगठनों के सामने आज 2 साल के लिए कृषि कानूनों के निलंबन का प्रस्ताव रखा लेकिन किसान संगठनों का कहना है कि यह हमे मंज़ूर नहीं। आज मीटिंग शुरू होने से पहले ही कृषि मंत्री तोमर ने कहा था कि सरकार कृषि कानूनों को रद्द नहीं कर सकती अगर किसान संगठनों के पास कोई और सुझाव है तो वह अपनी तरफ से रखे सरकार उस पर खुले दिल से विचार करेगी।

बता दें कि 6वे दौर की बातचीत में सरकार और किसान संगठनों में 2 मुद्दों पर सहमति बनी थी उसके बाद सारी बातचीत बे नतीजा रही। बता दें कि किसान संगठन कृषि कानूनों को रद्द करवाने पर ही अड़े हुए हैं।

CATEGORIES
Share This

COMMENTS

Wordpress (0)